पति ही निकला पत्नी का कातिल

कुशीनगर (मोहन राव): जिसके साथ जीने मरने की कसम खाई, प्रेम किया परिवार, समाज, सबसे विद्रोह कर प्रियंका ने प्रेम विवाह किया। अपने पति के लिए हर जख्म सहने को तैयार थी। उसे क्या पता था कि वही पति दहेज का लोभी बनकर उसकी गला दबाकर हत्या कर देगा। शव को जलाने में सफल नहीं होने पर गांव से दूर एक चवर क्षेत्र में गड्ढा खोदकर लाश को दफन कर दिया गया।

रामकोला थाने की पुलिस ने शव को बरामद करने के बाद मृतका के पति व सास को गिरफ्तार कर लिया है।

बताते चलें कि कुशीनगर जनपद की रामकोला थाना क्षेत्र के ग्राम पकडी बांगर निवासिनी प्रियंका उसी थाना क्षेत्र के गांव मांडेयराय के टोला खेदू छपरा के निवासी जालंधर से प्रेम करती थी। प्रेम परवान चढ़ता गया और पांच वर्ष पूर्व दोनों ने प्रेम विवाह कर लिया । कुछ समय तो ठीक ठाक चलता रहा प्रियंका ने दो बच्चों को भी जन्म दिया । अब शुरू हुई दहेज उत्पीड़न।

जालंधर, प्रियंका को दहेज लाने के लिए प्रताड़ित करना शुरु कर दिया। परिवार में कलह शुरू हो गया। मृतका की मां के अनुसार रविवार को रात में जालंधर ने अपनी पत्नी प्रियंका की खूब पिटाई की । प्रियंका ने अपने मायके फोन कर सारी बात बताई और कहां कि आप लोग आकर मुझे ले चलो। अगले दिन सुबह सोमवार को जब प्रियंका की मां अपनी बेटी के घर पहुंची तो प्रियंका के ससुराल वाले फरार थे और प्रियंका का भी कहीं अता-पता नहीं था। जोंहा देवी ने पुलिस को सूचना दी।

पुलिस मौके पर पहुंची तो घर में खून के निशान तथा जलाने के प्रयास के भी सबूत मिले। पुलिस को संदेह हो गया कि प्रियंका की हत्या कर दी गई है । अब प्रश्न यह था कि यदि हत्या की गई है तो लाश कहां जलाया या दफनाया गया है। मंगलवार को काफी प्रयास के बाद मांडेयराय गांव से दो किमी दूर चवर में गड्ढा खोदकर प्रियंका की दफन की गई लाश मिली। पुलिस ने मृतका की मां की तहरीर पर चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर प्रियंका के पति और सास को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।