सत्ता के इशारे पर डुमरियागंज ब्लॉक प्रमुख के खिलाफ हुआ फर्जी मुकदमा: माता प्रसाद

TIME
TIME
TIME

सिद्धार्थनगर: सपा नेता और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पांडेय ने कहा है कि डुमरियागंज प्रमुख के अविश्वास प्रस्ताव प्रकरण में सत्ता के इशारे पर पुलिस द्वारा ब्लॉक प्रमुख मिठ्ठू प्रसाद के पुत्र राजकुमार उर्फ चिनकू यादव समेत कई समाजवादी नेताओं पर फर्जी मुकदमा किया गया है।

शुक्रवार को इटवा में सपा कार्यालय पर प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते हुए डॉ पांडेय ने कहा कि प्रशासन ब्लॉक प्रमुख पर विभिन्न प्रकार से इस्तीफा देने का दबाव बना रही है। उन्होंने कहा की हम सत्ता के दबाव के आगे नहीं झुकेंगे और समाजवादी पार्टी के लोग चट्टान बन कर खड़े रहेंगे। उनके इस प्रकार के उत्पीड़न से हम समाजवादी बिल्कुल डरने वाले नही है।

माता प्रसाद ने कहा कि सत्ता के इशारे पर प्रसाशन द्वारा जो उत्पीड़न किया जा रहा है उसको कत्तई बर्दाश्त नही किया जाएगा। उन्होंने प्रशासन पर तंज कसते हुए कहा कि सत्ता के लोगों के इशारे पर प्रशासन को लोकतंत्र की हत्या नही करनी चाहिए। लोकतांत्रिक तरीके से बहस करवाकर निष्पक्ष चुनाव कराया जाये नही तो समाजवादी पार्टी आंदोलन को बाध्य होगी।

डॉ पांडेय ने कहा कि पहले अविशस्वास प्रस्ताव पर 22 अगस्त को चर्चा होनी थी। पर सत्ता के लोगो के इशारे पर प्रशासन द्वारा बाढ़ का कारण बताकर तिथि टाल कर 11 सितम्बर कर दी गयी है। ऐसे में प्रशासन से यही अपेक्षा है कि निष्पक्ष तरीके से नियमानुसार चर्चा कराई जाए। अन्यथा पार्टी द्वारा एक बड़ा आंदोलन किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि सरकार की लापरवाही के चलते प्रशासन ने कई गांव मेरुण्ड होने के बाद भी मैरुण्ड घोषित नही किया। पहली बार बाढ़ से इतने लोगों की जान गयी है। इस बार बाढ़ से मरने वालों की संख्या अधिक है। सिर्फ डुमरियागंज में ही 6 मौते हुई। जिले में दो दर्जन से ज्यादा लोगों की मृत्यु हुई है। प्रशासन द्वारा कोई ठोस कदम नही उठाया गया। इससे यह प्रतीत हो रहा है की सरकार को जनता से कोई लेना देना नही है।