मऊ

सभी नियमों को ताख पर रखकर हो रहा है अवैध खनन का काला कारोबार

देवेन्द्र कुशवाहा
मऊ: पुलिस व खनन माफियाओं की मिली भगत व सरंक्षण से क्षेत्र के दर्जनों हिस्सो में पीले बालू व मिट्टी के अवैध खनन का काला कारोबार सभी मानकों व नियमो को ताक पर रखकर रातो दिन किया जा रहा है। इस अव्यवस्था का आलम यह कि खनन माफियाओं के सामने विभाग के सारे नियम व मानक तथा पुलिस बौनी साबित हो रही है। क्षेत्रवासियो के बार बार शिकायत के बाद भी पुलिस व प्रशासन मामले से अंजान बना हुआ है। जिससे खनन माफियाओं के हौसले बुलंद है औऱ बड़े ही आराम से खनन कर बालू ऊँचे दामो पर बाजारों में बेच रहे है।

जनपद के कोपागंज थाना क्षेत्र के चिस्तीपुर, सहरोज, काछी कला, देइथान, भुजोति, इंदारा, सरवा, आदि इलाको के अलावा हलधरपुर में रातो दिन अवैध मिट्टी व पीले बालू का खनन किया जा रहा है। खनन माफिया पुलिस की मिली भगत से सुनियोजित तरीके से अवैध मिट्टी व पीले बालू की सप्लाई बड़े इत्मीनान से ऊँचे दामो पर इधर उधर कर रहे हैं।

कुछ समय पूर्व प्रदेश सरकार द्वारा खनन पर रॉयल्टी लगा दिए जाने से उक्त खनन में काफी हद तक रोक लगी। लेकिन जैसे ही सरकार द्वारा उक्त रॉयल्टी हटाई गई तो खनन काफी जोर शोर से शुरू हो गया। स्थिति यह है कि उक्त रातो दिन बड़े पैमाने पर हो रहे खनन के कारोबार से जहा क्षेत्र का अस्तित्व संकट में पड़ता जा रहा है। वहीँ आम नागरिकों का सड़को पर हो रहे काफी धुल से सांस लेना भी मुश्किल हो गया है। क्षेत्र के विनोद, राजेश, राम गोपाल, भोला, राजमंगल, दशरथ, पहलवान आदि का कहना था कि उक्त खनन की हुई ट्रैक्टर टालियां मिट्टी लाद थाने के सामने से गुजर रही है लेकिन पुलिस हाथ डालने में भी परहेज कर रही है । अगर खनन की स्थिति यही रही तो बड़ा आंदोलन होगा।

किसी दशा में नहीं होने देंगे अवैध खनन

कोपागंज थाना क्षेत्र में रातो दिन सारे नियम व मानकों को ताक पर रख कर खनन माफियाओं द्वारा किये जा रहे अवैध मिट्टी व पिले बालू के बाबत पूछे जाने पर ज्वॉइंट मजिस्ट्रेट व उपजिलाधिकारी सदर डॉ अंकुर लाथर ने कहा कि किसी भी दशा में अवैध मिट्टी खनन नही होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि निजी कार्य के लिए रॉयल्टी खत्म की गयी है ना कि खनन करोवारियो द्वारा बाजारों में बेचने के लिए। उन्होंने बताया कि कोतवाल को निर्देशित किया गया है कि अभियान चलाकर उक्त करोवारियो के विरूद्व कार्यवाही करें।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *