अब स्कूलों में प्रार्थना सभाओ में होगा इंसेफेलाइटिस जागरूकता कार्यक्रम

गोरखपुर: पूर्वांचल के मासूमों के लिए अभिशाप बन चुकी इंसेफ्लाइटिस के रोकथाम के लिए प्रशासन द्वारा मंडल स्तर पर व्यापक जन जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। जिसके तहत लोगों को बीमारी के लक्षण व बचाव की जानकारी दी जा रही है। जिससे कोई भी मासूम इस भयावह बीमारी का शिकार न हो सके ।यह जानकारी मंडलायुक्त सभागार में आयोजित पत्रकार वार्ता में कमिश्नर गोरखपुर अनिल कुमार ने दी।

उन्होंने कहा कि 20 मई तक मंडल के समस्त ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में इंसेफेलाइटिस रोग के रोकथाम व् वचाव हेतु विशेष जन जागरूकता सप्ताह चलाया जा रहा है। जिसके अंतर्गत विद्यालयों में प्रार्थना के समय छात्रों को रोग से बचाव एवं उसके उपायों से अवगत कराया जाएगा । उन्होंने कहा कि 17 मई को मंडल के प्रत्येक विद्यालय, ब्लॉक मुख्यालय एवम् जनपद मुख्यालय से प्रातः 8 बजे जन जागरूकता रैली निकाली जाएगी । उस दिन पूरे मंडल में लगभग 13 हजार रैलियां प्रस्तावित है।

इन रैलियों में बच्चों अभिभावकों के साथ साथ समाज के जागरुक , सरकारी विभागों के कर्मी एवं अधिकारी तथा प्रशासनिक अधिकारी भी शामिल रहेंगे। बच्चों एवं आमजन को इस रोग के बचाव व रोकथाम तथा रोगियों को उपलब्ध निशुल्क सुविधाएं जैसे एंबुलेंस सेवा प्रत्येक सीएचसी, पीएचसी एवं जिला चिकित्सालय पर उपलब्ध निशुल्क उपचार सुविधा एवं पुनर्वास सुविधा आदि से अवगत कराने के लिए गांव गांव चौपाल भी आयोजित किया जाएगा। चौपाल कार्यक्रमों का सर्वेक्षण जनपद स्तर के अधिकारियों द्वारा किया जाएगा। कुछ चौपालों में जिलाधिकारी एवं मंडलायुक्त प्रतिभाग करेंगे। गांव में साफ सफाई शुद्ध पेय जल का उपयोग, शौचालय का प्रयोग करने के लिए भी लोगों को चौपाल के माध्यम से प्रेरित किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि इन सभी कार्यो के संपादन के लिए 8 मई से 13 मई के मध्य मंडल के प्रत्येक ब्लाक पर विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया था जिसमें आशा, एएनएम आंगनबाड़ी ,अध्यापक व ग्राम प्रधान को प्रशिक्षित किया गया था। मंडलायुक्त ने कहा कि पूर्वांचल के लिए अभिशाप बन चुके इंसेफलाइटिस को जन जागरूकता अभियान के अंतर्गत उखाड़ फेंकने का काम किया जाएगा जिससे कोई भी मासूम इस जानलेवा बीमारी का शिकार ना हो सके।

Martia Jewels
Martia Jewels
Martia Jewels