महिला की मौत पर तीमारदारों ने जिला अस्पताल में जमकर काटा बवाल

TIME
TIME
TIME

महराजगंज: रविवार को जिला अस्पताल में भर्ती महिला की इलाज के दौरान मौत हो जाने पर तीमारदारों ने डॉक्टर पर लापरवाही और मारपीट का आरोप लगाते हुए हंगामा कर इमरजेंसी में तोड़फोड़ करते हुए जमकर बवाल काटा। कोतवाली पुलिस के हस्तक्षेप के बाद तीमारदार शांत हुए।

जनपद के कोठीभार थानाक्षेत्र के ग्रामसभा सबया ढाला निवासी बरफा देवी की शुक्रवार को अचानक तबीयत खराब हो गई। परिजन उन्हें प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सिसवा ले गए। इलाज के बाद हालत में सुधार नहीं होता देख डॉक्टरों ने बरफ़ा देवी को जिला अस्पताल रेफर कर दिया। परिजन उन्हें शनिवार सुबह 10 बजे जिला अस्पताल की इमरजेंसी में लेकर पहुंचे। उन्हें मेडिसिन एवं संक्रामक वार्ड में भर्ती कर इलाज शुरू किया गया।

रविवार को बरफा देवी की हालत गंभीर हो गई। उसके पोते विवेक और अंकित शर्मा दौड़ते हुए इमरजेंसी में पहुंचे और डॉ. विशाल चौधरी से पूरा हाल बताया। डॉक्टर ने महिला को इमरजेंसी में लाने को कह दिया। परिजन उसे स्ट्रेचर पर लेकर इमरजेंसी में पहुंचे। वहां देखने के बाद डॉक्टर ने वार्ड में वापस भेज दिया। करीब 11 बजे बरफा का निधन हो गया।

परिजनों ने डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाकर हंगामा शुरू कर दिया। इस बीच डाक्टर और इंसेफेलाइटिस आईसीयू ऑपरेटर मुकेश कुमार के साथ मारपीट भी की। इसके बाद भी परिजनों का गुस्सा शांत नहीं हुआ। उन्होंने वार्ड के सामने गेट के शीशे को तोड़ दिया। सी एम एस डॉ. आर बी राम मौके पर पहुंचे। तोड़फोड़ देख सदर कोतवाली पुलिस को सूचना दिए। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अनुज कुमार सिंह के हस्तक्षेप से करीब तीन बजे लोग शांत हुए।