VIDEO: सीएसटीएन मार्ग पर उड़ रहे धूल के गुबार में दिन में हेडलाइट जलाकर जान जोखिम में डाल सफर कर करते हैं राहगीर

महराजगंज: कप्तानगंज से ठूठीबारी तक बनाये जा रहे सी एस टी एन मार्ग के दोनों तरफ मिट्टी भराई के बाद उड़ रहे धूल से राह चलना मुश्किल हो गया है। इस मार्ग पर आये दिन चोटिल हो रहे राहगीर जान जोखिम में डालकर सफर कर रहे हैं। 9 मार्च गुरुवार को तो धूल के गुबार के चलते इस मार्ग पर 6 वर्षीय मासूम को जान गंवानी पड़ गयी। और दुर्घटनाएं होने के बावजूद भी निर्माण कम्पनी राहगीरों को धूल से बचाव करने में अक्षम साबित हो रहा है।

बताते चलें कि दो जनपदों को मिलाने वाली कप्तानगंज, इंदरपुर (कुशीनगर) से घुघली, सिसवा, निचलौल, ठूठीबारी होते नौतनवा (बरगदवा) तक केंद्रीय सड़क परिवहन राज मार्ग मंत्रालय द्वारा 179 करोड़ रुपया व प्रदेश सरकार के अंशदान के बाद 73 किलोमीटर तक इस सड़क का निर्माण अधिसूचना जारी होने के पूर्व ही प्रारम्भ हो गया था।

जिसके तहत कार्यरत ठिकेदार द्वारा सात मीटर चौड़ी व उच्चीकृत सड़क के निर्माण में सड़क के दोनों तरफ बगल से मिट्टी निकालकर सड़क के किनारे बिछा दिया गया। परन्तु मिट्टी के ऊपर गिट्टी न डाले जाने के चलते वाहनों के आवागमन से उड़ रहे धूल से लोगों का चलना मुश्किल हो गया है। जब एक ही स्थान पर दो साइडों से चार पहिया वाहन निकलते हैं तो स्थिति काफी नारकीय हो जा रही है।

मोटरसाइकिल, साईकिल या पैदल राहगीर धूल की परतों से बदरंग हो जा रहे हैं। और तो और इस मार्ग पर बने गड्ढों के चलते प्रतिदिन लोग गिरते पड़ते भी सफर करते नज़र आ रहे हैं। स्थिति यह है कि उड़ रहे धूल के अंधेरे के बीच वाहनों को लाइट जलाकर आना-जाना पड़ रहा है।

इस मार्ग पर बसे गाँवों में लोहेपार के रामनिवास दुबे, बरवा द्वारिका के नागेंद्र सिंह, हरपुर पकड़ी के विजय जायसवाल, दिलीप गुप्ता, धनंजय दूबे, आदित्य जायसवाल, दीपांकर चौधरी, राजू कुमार, रहीश सिद्धिकी, बंदी ढाला के करुणेश पाठक, सबयां के अरविंद, संडा के ब्रह्मा सिंह, कटहरी के ज़हीर खान आदि का कहना है कि निर्माण कार्य तो प्रारम्भ हो गया है। परन्तु मानकों को ताक पर रख दिया गया है। निर्माण कम्पनी द्वारा मनमानी कर सड़कों के किनारे मिट्टी निकालकर दबा दिया गया है। मिट्टी और गिट्टी एक साथ गिराया जाना चाहिए।

धूल के गुबार में मासूम को गंवानी पड़ी जान

निर्माणाधीन सी एस टी मार्ग पर गुरुवार को कोठीभार थानाक्षेत्र अन्तर्गत कोठीभार निवासी निवासी उमेश गुप्ता का 6 वर्षीय पुत्र रमन गुप्ता की धूल के गुबार में बस के नीचे आ जाने से दर्दनाक मौत हो गयी। मासूम रमन अपने घर के आगे खेल रहा था। इसी बीच वह बस की चपेट में आ गया।

कार्रवाई हेतु लिखा पत्र

इस मामले में जनपद के कोठीभार थानाक्षेत्र अन्तर्गत ग्रामसभा बरवां द्वारिका निवासी योगेश प्रताप सिंह पिंकू ने प्रधानमन्त्री, मुख्यमंत्री, तथा ग्रामीण विकास मंत्रालय को पत्र लिखकर सम्बन्धित ठिकेदार पर मनमानी का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग किया है।