संतकबीर नगर

संतकबीरनगर: मृत हो चुकी क्लस्टर योजना फिर होगी जीवित

संतकबीरनगर: जिले का बखिरा क्षेत्र क्लस्टर के लिए काफी पहले से प्रचलित था। यहाँ के क्लस्टर के सामानों की बिक्री देश के कोने-कोने तक होती थी। लेकिन सरकारों की लापरवाही के कारण क्लस्टर योजना पूरी तरह से फ्लॉप हो गयी थी। क्लस्टर से जुड़े कारीगरों के सामने रोजी रोटी का भी संकट उतपन्न हो गया था।

क्लस्टर के कारीगर अपनी पुस्तैनी धंधे को छोड़कर मजदूरी के लिए विवश हो रहे थे। वहीँ प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में जिले के पीतल नगरी के लिए विख्यात बखिरा के क्लस्टर कारीगरों की मृत हो चुकी क्लस्टर योजना एक बार फिर जीवित होने जा रही है।

इसको लेकर प्रधानमन्त्री के निर्देशन में क्लस्टर योजना के साथ उद्योग बंधुओं की रविवार को एक बैठक हुई। बैठक में जिलाधिकारी भूपेंद्र एस चौधरी ने बखिरा बर्तन उघोग व्यापारियों के साथ कलेक्ट्रेट सभागार में बर्तन उघोग को और व्यापक स्तर पर बढ़ाये जाने के मुद्दे पर चर्चा की। केंद्र सरकार की योजनाओं को साझा करते हुए प्रोजक्टर पर बर्तन उघोग को बढ़ावा दिए के लिए जानकारी दी गई।

इस अवसर पर व्यापारियों द्वारा लगाये गए एक प्रदर्शनी का भी आलोकन किया। इस अवसर पर क्लस्टर योजना के जिलाध्यक्ष शिवा जी, रवि सिंह, मनीष सिंह, विजय कुमार, श्री गोपाल, मुंद्रिका, अशोक, शशी, हरिशंकर , आदि लोग उपस्थित रहे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *