संतकबीर नगर

उड़ी में गणेश की शहादत से मेहन्दावल में पसरा सन्नाटा

people-mouring-the-death-ofसंतकबीरनगर: जम्मू कश्मीर के उडी में आतंकी हमले में शहीद हुए 18 जवानों में से एक संतकबीरनगर के मेंहदावल के रहने वाले गणेश शंकर यादव के घर मातम पसरा हुआ है। रविवार शाम शहीद की मौत की खबर गांव में पहुंचते ही कोहराम मच गया। लोग मोदी सरकार से पाकिस्तान से इस शहादत का इंतकाम लेने की मांग कर रहें हैं।
गणेश शंकर यादव की अभी 21 अगस्त को ही उडी में तैनाती हुई थी। उनकी पत्नी गुड़िया, 10 साल की बच्ची अमृता, सात साल का आकृत और चार साल की खुशी को लेकर गोरखपुर के पीपीगंज में रहती थीं। बच्चे वहीं पढ़ते थे।
रविवार शाम पति की शहादत की खबर मिलने के बाद गुडि़या तीनों बच्चों को लेकर गांव आ गई हैं। गांव पर बड़े भाई सुरेश चंद यादव और बूढ़ी मां का रो-रोकर बुरा हाल है। घर पर ग्रामीणों की भीड़ जमा है।
शहीद का शव सोमवार देर रात तक या मंगलवार सुबह पहुंचने की उम्मीद है। आतंकी हमले को लेकर गांववालों में जबरदस्त गुस्सा है। उनका कहना है कि पाकिस्तान से बातें बहुत हो चुकी हैं। अब इन शहादतों का बदला लिए जाने की जरूरत है।
संतकबीरनगर के डीएम सुरेश कुमार व एसपी शैलेश पांडेय सोमवार अपराह्न 12 बजे गांव में पहूँचे। जहाँ दोनों अधिकारियों ने शहीद के परिजनों से शोक जताया। उन्होंने बताया कि लगभग 1.30 बजे शव वाराणसी आएगा। वहां के ए डी एम से वार्ता हो रही है। देर शाम तक शव आने की उम्मीद है।
परिजनों ने कल सुबह 8 बजे दाह संस्कार करने की सहमति जताई है। डीएम ने बताया कि मुख्यमंत्री कार्यालय से वार्ता के बाद प्रदेश सरकार ने 20 लाख के सहायता की घोषणा की है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *