संतकबीर नगर

संतकबीरनगर: जिम्मेदार मौन, मरीज हो रहे हलकान

शैलेन्द्र मणि त्रिपाठी
संतकबीरनगर: जिले के संयुक्त जिला अस्पताल में मेडिकल स्टोर के सामने लगे दवाओ की लिस्ट से 42 ऐसी दवाईया हैं जो मेडिकल स्टोर और इमरजेंसी में नही है। दवाइयों के न होने से डॉक्टर और मरीज दोनों ही परेशान हैं। दवा ना होने से डॉक्टर बाहर की दवा लिख रहे हैं वहीँ दूसरी तरफ बाहर की दवाईया खरीदने के कारण मरीज और उनके परिजनों के ऊपर अधिक आर्थिक बोझ पड़ रहा है।

जिला अस्पताल के जिम्मेदार पूरी तरह से मौन बनकर मरीज और डॉक्टरों को होने वाली समस्याओ का नजारा देख रहे हैं। दूर दराज क्षेत्रो से गरीब मरीज जिला अस्पाल के डॉक्टरों से इलाज कराने आ रहे हैं लेकिन दवाईया न होने से मरीज के ऊपर बड़ा बोझ पड़ रहा है। इस तरफ जिम्मेदार कोई ध्यान नहीं दे रहे है, न ही सरकार ध्यान दे रही है।

जिला अस्पताल की दवाओ के बोर्ड पर नजर डाले तो बोर्ड पर छपी कुल 94 दवाओ में से 42 दवाईया गायब है जिसमे दवाई नम्बर 1, 2, 4, 8, 12,15,16, 17, 18,19,20, 21,22,24, 26,27,28,29,43,45,48,49,52,653,62,63,64,66,67,68, 70, 71,72,81,84,85,89, 92, 93 और 94 नम्बर की दवाईया जिला अस्पताल से गायब हैं।

सरकार और जिम्मेदारों की उपेक्षा और का शिकार मरीज और डॉक्टर दोनों हो रहे है पुरे मामले पर अस्पताल के जिम्मेदार दवाओ के मामले में कुछ भी बोलने से कतरा रहे है और दबी जुबान से जिला अस्पताल में डॉक्टरों और स्टाफ की कमी का रोना रो रहे है ।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *