संतकबीर नगर

संतकबीरनगर: तीन शव मिलने पर जनाक्रोश, चक्का जाम खत्म कराने में पुलिस के छूटे पसीने

शैलेन्द्र त्रिपाठी
संतकबीरनगर: जिले के खलीलाबाद कोतवाली थाना क्षेत्र की मुखलिसपुर रेलवे क्रासिंग के बगल में मंगलवार को रेलवे ओवर ब्रिज से महज 50 मीटर दूर तीन युवकों के शव मिले थे। इस घटना को लेकर पूरे इलाके में गुस्से का माहौल है। बुधवार को यह गुस्सा सड़क पर नज़र आया। लोगों ने नमाज के बाद जाम लगाया और जमकर नारेबाजी की।

तिहरे हत्याकांड के लिए पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए लोगों ने अपना गुस्सा जाहिर जमकर जताया। जाम की सूचना पर पुलिस के जिम्मेदार मौके पर पहुंच गए और लोगों को शांत कराते रहे। लेकिन आक्रोशित भीड़ नहीं मानी। मौके पर पहुंचे एसपी शैलेश कुमार पांडेय ने तहरीर लेकर मुकदमा दर्ज करने और कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया, उसके बाद लोगों ने जाम को खत्म किया। इस बीच करीब एक घंटे तक आवागमन पूरी तरह से ठप रहा।

पठान टोला मोहल्ले से शव उठने के बाद मुख्य मार्ग पर लाया गया। जहां पर सभी लोगों ने जनाजा की नमाज अदा की। उसके बाद शव को वही रखकर सड़क जाम कर दिया। मुहल्लेवासियों ने पुलिस पर कार्रवाई न करने का आरोप लगाते हुए नारेबाजी शुरूकर दी। रेलवे ट्रैक के पास शव मिलने के बाद से ही परिजन व मुहल्ले के लोग तीनों युवकों की हत्या किए जाने का आरोप मढ़ते रहे। मोहल्ले वालों का आरोप था कि पुलिस इसे दुर्घटना मानकर हत्यारों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कररही है।

वहीं पुलिस के जिम्मेदार तहरीर न मिलने की बात कहते रहे और मोहल्ले के लोग भड़क गए और सड़क पर उतर गए। मार्ग जाम होने की जानकारी होने के बााद कोतवाल सुधीर कुमार सिंह मय फोर्स मौके पर पहुंच गए। कोतवाल ने पठान टोला के लोगों को काफी समझाया बुझाया। उसके बाद भी लोगों का आक्रोश शांत नही हुआ।

कोतवाल ने तहरीर लेकर कार्रवाई का भी आश्वासन दिया। लेकिन मुहल्ले के लोग एसपी को बुलाने की मांग पर अड़ गए। कोतवाल ने मामले की सूचना एसपी को दी। इसके बाद एसपी शैलेश कुमार पांडेय तत्काल मौके पर पहुंच गए। एसपी ने आक्रोशित भीड़ को शांत कराते हुए मामले में कार्रवाई करने का निर्देश कोतवाल सुधीर कुमार सिंह को दिया। उन्होंने ने कहा कि परिजन किसी के बहकावें में न आएं। पूरी तरह से निष्पक्ष कार्रवाई की जाएगी।

तीन डाक्‍टरों के पैनल ने कैमरे के सामने किया युवकों का पोस्‍टमार्टम

इससे पहले रेलवे ट्रैक के किनारे मिले तीनों युवकों के शवों का पोस्टमार्टम पुलिस ने मंगलवार की देर रात ही कराया। डीएम ने मामले की गंभीरता को देखते हुए तीन चिकित्सकों का पैनल गठित किया था। इसके अलावा पोस्टमार्टम प्रक्रिया की वीडियो रिकार्डिंग कराने का भी निर्देश दिया था। देर रात करीब 11.30 डाक्टर विवेक, डॉ एके चौधरी और डॉ रहमत अली के पैनल ने तीनों युवकों का पोस्टमार्टम शुरू किया। पूरे पोस्टमार्टम प्रक्रिया की वीडियो रिकार्डिंग कराई गई।

पोस्टमार्टम के दौरान भी भारी संख्या में लोग अस्पताल परिसर में मौजूद रहे। लोगों के आक्रोश को देखते हुए कोतवाल सहित कई दरोगा मय फोर्स अस्पताल परिसर और पोस्टमार्टम हाउस पर मुस्तैद रहे। रात में दो बजे के करीब पोस्टमार्टम की प्रक्रिया पूरी होने के बाद तीनों युवकों के शव को उनके परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *