संतकबीर नगर

इतिहास रच गये जिले के दोनों नवागत पुलिस अधीक्षक

image-for-representation-4संत कबीर नगर: ट्रांसफर पोस्टिंग का खेल जैसे चाचा भतीजा (अखिलेश-शिवपाल) का झगड़ा बन बैठा है। जिले के पुलिस महकमे में कुछ ऐसा ही चल रहा है जैसे चाचा शिवपाल और भतीजे अखिलेश में चल रहा रगड़ा। 2 दिनों के भीतर 2 पुलिस अधीक्षकों का आगमन और फिर ट्रांसफर शायद चाचा-भतीजे की कहानी ही बयाँ कर रहा है।
बीते दिनों पूर्व एस पी शैलेश पांडेय का बस्ती जनपद के लिए हुए तबादले के बाद हेमन्त कुटियाल और हरिश्चन्द के रूप में यहॉं स्थानांतरित होकर आये दोनों पुलिस अधीक्षकों का ट्रांसफर चौबीस घण्टो के अंदर फिर यहाँ से होना बिलकुल ऐसा लग रहा है जैसे फिल्मो में खलनायक अपने काले धंधे को बेरोकटोक चलाने के लिए ईमानदार एस पी (फ़िल्मी हीरो) का ट्रांसफर कराता हो।
फिलहॉल महज 24 घण्टो के भीतर हुए पुलिस अधीक्षकों के तबादले के पीछे शासन की क्या मंशा है ये शासन ही जाने लेकिन जाने अनजाने में हुए इस तबादले ने जिले में एक इतिहास तो बना ही डाला है। दोनों नवागत पुलिस अधीक्षकों के लगातार तबादले ने जिले के लिए एक ऐसा रिकार्ड बना डाला है जो कभी टूटने वाला नही लगता।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *