सिद्धार्थ नगर

डुमरियागंज से आफताब आलम ने ठोंकी ताल, बोले 2019 में जीता तो 3 माह में बदल दूंगा जिले की तस्वीर

सिद्धार्थनगर: बसपा नेता और डुमरियागंज लोकसभा सीट से पार्टी के संभावित प्रत्याशी आफताब आलम उर्फ गुड्डू भैया ने कहा है है कि यदि 2019 में होने वाले आम चुनाव में क्षेत्र की जनता उन्हें अपना प्रतिनिधि बना कर लोकसभा में भेजती है तो वो जनपद की तस्वीर को तीन माह के अन्दर इस लायक बना देंगे कि आने वाले 20 वर्षो तक यहाँ की जनता को कोई परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

बता दें कि बहुजन समाज पार्टी के तत्वाधान में शुक्रवार को इटवा विधानसभा क्षेत्र के मधवापुर चौराहे पर मासिक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक के मुख्य अतिथि जोनल कोर्डिनेटर उदयभान थे। बैठक में आफताब आलम और इटवा विधानसभा प्रभारी हाजी अरषद खुर्शीद भी शामिल हुए। अपने सम्बोधन में जोनल कोर्डिनेटर उदयभान ने कहा कि जनपद के बाजारों से खाद की बोरियां गायब हो गई है। किसान यूरिया के लिए भटक रहा है साधन सहकारी समितियों के गोदाम भी खाली हो गये हैं। अच्छी बारिश होने के बाद किसानों के चेहरे ख़ुशी से खिले हुए थे, लेकिन अब उन्हे खाद नहीं मिल रही है।

उन्होने कहा कि जनपद के प्रतिनिधि सिर्फ अपने जेबे भरने में लगे हुए है। उन्हें जनता के दुःख दर्द से कोई लेना देना नहीं है। उन्होंने कहा कि यही वजह है कि आज जनपद की कोई भी सड़क इस लायक नहीं है जिसे हम सड़क कह सके। उन्होने कहा कि अब समय आ गया है 2019 के लोकसभा चुनाव में बसपा के डुमरियागंज लोकसभा प्रत्यशी आफताब आलम को भारी बहुमत से जिताना होगा।

इटवा प्रभारी हाजी अरशद खुर्शीद ने कहा कि जनपद का हर नागरिक भाजपा के शासन से ऊब चुका है। यही वजह है कि आज जनपद की जनता का रूझान तेजी से बसपा की ओर हो रहा है। उन्होने कहा कि भाजपा के जनप्रतिनिधि थानेदारो व अधिकारियों, कर्मचारियों से वसूली करा रहे है। गरीब जनता की फरियाद नहीं सुनी जा रही है। दलितों अल्पसंख्यकों को किसी न किसी जुर्म में जेल भेजा जा रहा है। भाजपा सरकार के खिलाफ अगर कोई आवाज उठाता है तो उसे जेल की सलाखों केपीछे भेज दिया जा रहा हे।

श्री खुर्शीद ने कहा कि अब समय आ गया इस सरकार को उखाड़ फेंकने का। उन्होंने लोगों से आवाह्न किया कि आने वाले 2019 के लोकसभा चुनाव में बसपा उम्मीदवार आफताब आलम को भारी मतों से जिलाकर बहन मायावती को प्रधानमंत्री बनाने में लग जाये।

बैठक के दौरान राममिलन भारती, पट्टू राम आजाद, दिनेश चंद गौतम, ज्वाला प्रसाद राजभर, राकेश प्रजापति, जिला प्रभारी अंगद राज गौतम, डा राधेशयाम, पेशकार पासवान, रामअचल गौतम, सेराज अहमद, सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

बता दें कि डुमरियागंज लोक सभा सीट से वर्तमान में भाजपा के जगदम्बिका पाल सांसद हैं। पाल 2014 के आम चुनाव के ठीक पहले कांग्रेस को छोड़ भाजपा का दामन थाम लिए थे। कुछ दिनों पहले पाल ने सपा प्रमुख और प्रदेश के पूर्व मंत्री अखिलेश यादव से मुलाकात की थी। उस मीटिंग के बाद यह कयास लगाए जाने लगे कि पाल 2019 में होने वाले चुनाव में भाजपा छोड़ साइकिल की सवारी कर सकते हैं।

2019 के चुनाव में सपा-बसपा के गठबंधन के अटकलों के बीच पाल का अखिलेश से मिलना कोई छोटी राजनीतिक घटना नहीं थी। यह कयास लगाए जाने लगे की पाल को अगर महागठबंधन अपना प्रत्याशी बनता है तो बसपा नेता आफताब आलम उर्फ गुड्डू भैया को एक बार फिर मन मसोस कर रह जाना पड़ेगा। इन्ही कयासों के बीच आफताब आलम का डुमरियागंज के लोगों से सीधा संवाद यह दर्शाता है कि उन्हें हाई कमांड से कुछ तो ग्रीन सिग्नल मिला ही है जिससे वो लोक सभा जाने की तैयारी शुरू कर रहे हैं।

 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *