सिद्धार्थ नगर

कैसी बिगड़ी कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय के 8 छात्राओं की हालत

कृपा शंकर भट्ट

सिद्धार्थनगर. जनपद के कस्तूरबा आवासीय बालिका विद्यालय में बड़ी लापरवाही देखने को तब मिली  जब सुबह नाश्ते के बाद एक-एक कर कुल आठ छात्राएं बेहोश हो कर जमीन पर गिर पड़ी,

उन्हें आनन फानन में सामुदायिक स्वस्थ केंद्र  शोहरतगढ़ ले जाया गया जहाँ सभी का इलाज चल रहा है, जिसमे दो छात्राओ की हालत नाजुक बनी हुई है,  जिन्हें जिला अस्पताल मे भर्ती कराया गया है.

इस सम्बन्ध में चिकित्सा अधिकारी शोहरतगढ़ ने कहा की सभी छात्राएं कुपोषण की शिकार है जिनकी जाँच हो रही है | वहीँ पर बेसिक शिक्षा अधिकारी भी मानते है बच्चे कमजोरी व कुपोषण की शिकार हैं.

अब सवाल यह है कि कस्तूरबा आवासीय बालिका विद्यालय में छात्राओ के खाने की व्यवस्था मे सेंध कौन लगा रहा है ? इस बड़ी लापरवाही से जिले की कई विद्यलयों की पोल खुल सकती  है.

पौष्टिक भोजन नही मिल पा रहा है आवासीय स्कूलो मे

डॉक्टर्स के मुताबिक छात्राएं पूरी तरह से कुपोषण की है. उनका यह भी मानना  है कि सभी छात्राएँ हीमोग्लोबिन की कमी से बेहोश हुई थी. उन्होने यह भी कहा कि गुणवत्तापूर्ण भोजन न खाने से शरीर मे हीमोग्लोबिन की कमी हो जाती है. ऐसे मे एक बार फिर सवाल उठना लाजिमी हो जाता है कि क्या आवासीय स्कूलों में विद्यार्थियों को पोषणयुक्त भोजन नही मिल रहा है.

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *