व्यापारी हत्याकांड के खुलासे को लेकर सिसवा बन्द, सड़क पर उतरे व्यवसायी

TIME
TIME
TIME

महराजगंज: जिले के सिसवा कस्बे में व्यापारी चन्द्रशेखर मद्धेशिया हत्याकांड का खुलासा नहीं होने के विरोध में व्यापारियों ने गुरुवार को सिसवा बंद कर विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान सिसवा में अभूतपूर्व बन्दी रही।

मृतक के परिजनों के साथ व्यापारियों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ जुलूस निकाल नारेबाजी पूरे कस्बे में नारेबाजी किया। इस बीच आला अधिकारी भी पूरे मामले पर नजर बनाए रखे। किसी अनहोनी की आशंका में कोठीभार पुलिस पूरी तरह मुस्तैद रही। फिलहाल हत्या में सत्ताधारी दल के नेता का नाम जुड़ने से पुलिस अभी बैकफुट पर है।

चन्द्रशेखर उर्फ छोटे अपने मित्र ईश्वर के साथ बीते गुरुवार को छोटी बहन की शादी तय करने के लिए कुशीनगर जनपद के कसया गया था। ईश्वर के अनुसार दोनों वापसी में रात करीब नौ बजे कप्तानगंज में एक होटल में खाना खाकर सिसवा के लिए चले। घुघली में पेट्रोल पंप के पास पहुंचते ही एक बाइक पर सवार तीन बदमाश ईश्वर और छोटे का पीछा करने लगे।

सिसवा कस्बे के प्रेम चित्र मंदिर रोड पर रात करीब पौने ग्यारह बजे हमलावरों ने ईश्वर के ऊपर रिवाल्वर के बट से प्रहार किया इससे वह नीचे गिर गया। इसके बाद चन्द्रशेखर मद्धेशिया उर्फ छोटे की गोली मार कर हत्या कर दी गई। हत्या के मामले में पुलिस ने पहले तेजी दिखाई। लेकिन बाद में हत्या में भाजपा नेता का नाम सामने आने पर बैकफुट पर हो गई।

हत्या में भाजपा नेता के ही रिवाल्वर के प्रयोग की बात सामने आ रही है। पुलिस हर पहलू की पड़ताल करने का दावा कर व्यापारियों से जल्द खुलासे का वादा की थी। लेकिन एक सप्ताह बाद भी कुछ नहीं होने पर गुरुवार को व्यापारियों ने सिसवा को बंद कर विरोध प्रदर्शन किया। मौके पर पहुंचे थानाध्यक्ष कोठीभार ने 24 घण्टे में मामले का पर्दाफाश किये जाने का आश्वासन दिया। तब जाकर व्यापारी शांत हुए।