बस्ती में सपा ने फूंका योगी सरकार का पुतला, मृतकों के परिजनों को मुआवजा देने की मांग

TIME
TIME
TIME

बस्ती: आक्सीजन की कमी और इलाज के अभाव में गोरखपुर मेडिकल कालेज में हुई मासूमों की मौत के विरोध में शनिवार को सपा नेता महेन्द्रनाथ यादव के नेतृत्व में समाजवादी नेता लोहिया मार्केट स्थित शिविर कार्यालय पर एकत्र हुये और योगी सरकार विरोधी नारा लगाते हुये प्रदर्शन किया। जुलूस कम्पनीबाग चौराहे पर पहुंचा जहां योगी आदित्यनाथ सरकार का पुतला फूंका गया।

सपा नेता महेन्द्रनाथ ने कहा कि गोरखपुर में मस्तिष्क ज्वर से मौतें तो कई वर्षो से हो रही है किन्तु एक साथ मासूम बच्चों समेत 63 लोगों की मौत ने व्यवस्था और सरकार के प्रबन्धों की पोल खोलकर रख दिया है। कहा कि योगी सरकार के अधिकांश मंत्री और जन प्रतिनिधि केवल भाषण देने में व्यस्त है और जमीनी जरूरतों की अनदेखी किया जा रहा है। मांग किया कि घटना की उच्च स्तरीय न्यायिक जांच कराकर दोषियों को दण्डित करते हुये मृतकों के परिजनों को 20-20 लाख रूपये की आर्थिक उपलब्ध कराया जाय

सपा नेता ने कहा कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सरकार के कार्यकाल में सभी जांचों को निःशुल्क कर मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराया गया किन्तु योगी सरकार जीवन रक्षक दवा तो छोड़िये आक्सीजन तक उपलब्ध नहीं करा पा रही है। मासूमों के मौत की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुये मुख्यमंत्री को त्याग पत्र दे देना चाहिये।

विरोध प्रदर्शन और पुतला फूंकते समय संतराम आर्य, विजय यादव, एबादुल हक, फूलचंद श्रीवास्तव, जावेद पिण्डारी, रामजतन यादव, आलोक यादव, जावेद सभासद, पिन्टू शुक्ल, मोईन खान, दुर्गेश यादव, अखिलेश, गोविन्द आर्या, सुरेश यादव, घनश्याम यादव, विजय विक्रम आर्या, अजीत यादव, साहिल, समीर, मो. आमीर, धर्मेन्द्र यादव, अभिषेक यादव, जितेन्द्र यादव, चुलबुल यादव, नन्हें पहलवान, चिन्टू, मधुर, गोपाल, लोकेश, अंकित शुक्ल, राम सनेही यादव, रोशन, गिरीश, बब्लू यादव, अजय सिंह, अंकित सिंह, रमेश गौतम, सदावृक्ष तिवारी के साथ ही सपा के अनेक नेता, कार्यकर्ता शामिल रहे।