टॉप न्यूज़

डबल मर्डर से फिर थर्राया गोरखपुर, इंस्पेक्टर के भाई और भतीजे की निर्मम हत्या

murderगोरखपुर: शहर में अपराधियो के हौसले इस कदर बुलंद है की अभी 15 दिन पहले कोतवाली थाना क्षेत्र के विंध्यवासनी नगर कालोनी में डबल मर्डर की घटना की आग अभी ठण्डी भी नहीं हुयी थी की आज शाहपुर थाना क्षेत्र के अशोकनगर कालोनी में बलरामपुर जनपद के उतरौला थाने में इंस्पेक्टर के पद पर तैनात राजकुमार यादव के भाई नेत्र परीक्षक ओम प्रकाश यादव (40) और उनके चार वर्षीय पुत्र की हथौड़े से कूचकर हत्या कर दी गयी। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस को खून से सना हथौड़ा बिस्तर के पास मिला।

इस घटना से इलाके में सनसनी फैली हुयी है। पुलिस मामले की जाँच में जुटी है और प्रथम दृष्टया इस हत्याकांड के पीछे रंजिश का मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक ओमप्रकाश के ससुर यूपी के सीएम सिक्योरिटी में अफसर हैं। murder1

शाहपुर थाना क्षेत्र के अशोक नगर कालोनी में आज डबल मर्डर की घटना से लोग दहशत में है. दरअशल अशोक नगर में रहने वाले आर के यादव जो गैर जनपद में इन्स्पेक्टर के पद पर कार्यरत है के भाई नेत्र परीक्षक ओम प्रकाश यादव और उनके चार वर्षीय पुत्र अनितेश की देर रात हथौड़ा मारकर निर्मम तरीके से हत्या कर दी गई जबकि बगल के कमरे में सो रही उनकी पत्नी अर्चना को इसकी भनक तक नहीं लगी।

murder2

जांच पड़ताल में जानकारी मिली कि अर्चना अलग कमरे में सोई थीं। ओमप्रकाश और नितिन एक साथ दुसरे कमरे में सो रहे थे। घर में बीते दिनों से कुछ निर्माण कार्य चल रहा था जिसके चलते सुबह नौ बजे लेबर आ गए। लेबर आने के बाद जब ओमप्रकाश को जगाने परिवार के लोग उनके कमरे में पहुंचे तो पिता- पुत्र की लाश पड़ी थी। पत्नी अर्चना का कहना है कि उन्हें कुछ भी पता नहीं ही नहीं चला कि किस समय घटना को अंजाम दिया गया।बता दे कि मृतक ओम प्रकाश यादव की अर्चना के साथ दूसरी शादी थी. घटनास्थल पर पहुंचे सदर सांसद योगी आदित्यनाथ ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया. murder23jpg

पुलिस ने मृतक की पत्नी अर्चना को मीडिया से बात करने से रोक दिया और उसे एक अलग कमरे में कर दिया है। ओम प्रकाश राधिका काम्प्लेक्स में बैठते थे। अर्चना उनकी दूसरी बीवी है। बताया जा रहा है कि दोनों के बीच अच्छे संबंध नहीं थे। देखने में ऐसा लग रहा है कि डबल मर्डर करने वाले कातिल दरवाजे की कुंडी तोड़कर घर में दाखिल हुये। कुंडी टूटकर जमीन पर गिरी थी। बच्चे के गले पर भी निशान हैं जिससे लग रहा है कि उसका गला भी दबाया गया। हालांकि दोनों पर हथौड़े से हमला किया गया है। पुलिस को हथौड़ा मौके पर मिल गया है। पुलिस का कहना है कि घटना की पूरी कहानी पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही सामने आ पाएगी।

murder4jpg

 
मौके पर डी आई जी आर के चतुर्वेदी, एस एस पी लव कुमार और एस पी सिटी हेमंत कुटियाल मौजूद है इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए डी आई जी ने बताया की प्रथम दृष्टया इस घटना के पीछे रंजिस का मामला लगता है कोई लूट की वारदात नहीं हुयी है जल्द ही मामले का खुलासा कर दिया जायेगा ।

हरि राम शर्मा गोरखपुर जोन के नए आईजी, शिवसागर सिंह को डीआईजी का प्रभार

मुख्यमंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट चढ़ा अतिक्रमण की भेंट, मोहद्दीपुर से विश्वविद्यालय चौराहे तक का साईकिल ट्रैक बना डग्गामार बसो का बसेरा

पूवोत्तर रेलवे की मण्डलीय् कमेटी बैठक में दर्जन भर सांसदों ने रखे विचार

अनियंत्रित टाटा सफारी ब्यूटी पार्लर में घुसी, एक की मौत

LIKE US:
fb
AD4-728X90.jpg-LAST
 
 
 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *