टॉप न्यूज़

मकर संक्रान्ति मेले की तैयारी को लेकर गोरक्षपीठाधीश्वर महन्त आदित्यनाथ ने की समीक्षा बैठक

Adityanath-officiating-the-गोरखपुर: गोरक्षपीठाधीश्वर एवं सांसद महन्त योगी आदित्यनाथ ने कहा है की मकर संक्रान्ति पर्व पर श्रद्धालुओं की सुरक्षा और सुविधा में किसी भी प्रकार की कोई कोताही एवं लापरवाही नही होगी।
सोमवार को तैयारी को अन्तिम रूप देने हेतु समीक्षा बैठक को सम्बोधित करते हुए उन्होंने ने कहा की मन्दिर व्यवस्था के साथ-साथ जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, नगर निगम, विद्दुत विभाग सहित सभी सम्बन्धित विभाग मिलकर इस पूरे आयोजन को सकुशल सम्पन्न करेंगे।
श्रद्धालुजनों की सुविधा एवं सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए मन्दिर प्रशासन, जिला प्रशासन, नगर निगम तथा अन्य विभागों की ओर से तैयारी को अन्तिम रूप देने हेतु समीक्षा बैठक आयोजित हुई थी ।
Aditynathगोरक्षपीठाधीश्वर ने कहा कि मकर संक्रान्ति के अवसर पर श्री गोरखनाथ मन्दिर में लगने वाला खिंचड़ी मेला पूर्वी उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा धार्मिक व सांस्कृतिक आयोजन होता है। लाखों की संख्या में पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार और नेपाल के साथ-साथ पूरे देश से श्रद्धालुजनों की अपार भीड़ हम सबको अपने आपको प्रमाणित करने का एक अवसर देती है।
उन्होंने ने कहा क्योंकि यह पूर्वी उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा धार्मिक व सांस्कृतिक आयोजन है इसलिए सबके सहयोग से ही यह कार्य सकुशल सम्पन्न होगा।
योगी जी ने नगर निगम, लोक निर्माण विभाग, गोरखपुर विकास प्राधिकरण आदि संस्थाओं का आह्वान किया कि मन्दिर की ओर आने वाले सभी मार्गों को 13 जनवरी तक यातायात के लिए सुदृढ़ कर लिया जाय। सड़कों की साफ-सफाई के साथ-साथ पथ-प्रकाश की भी व्यवस्था सुनिश्चित कर ली जाय। सुरक्षा की चाक-चैबन्द व्यवस्था रखी जाय ताकि किसी भी श्रद्धालु को कोई समस्या न रहे इस बात का ध्यान रखा जाय।
Gorakhnath-Templeबैठक में नगर निगम ने मेला से सम्बन्धित सभी आवश्यक कार्यों को समय से पूरा करने का आश्वासन दिया। विद्युत विभाग ने इस अवसर पर पर्याप्त प्रकाश व्यवस्था का आश्वासन दिया। पूर्वोत्तर रेलवे ने मेले के लिए मेला स्पेशल ट्रेन चलाये जाने तथा उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम ने इस अवसर पर विशेष बस सेवा शुरू करने के बारे में अवगत कराया।
सांसद ने बताया कि चूंकि मकर संक्रान्ति का पर्व इस वर्ष 15 जनवरी को पड़ेगा तथापि मकर संक्रान्ति पर्व परम्परागत रूप से पिछले कई वर्षो से 14 जनवरी को आम श्रद्धालुजन मनाता आया है इसलिये दूरदराज और ग्रामीण क्षेत्रों से बड़ी संख्या में श्रद्धालु आयेंगे। इस दृष्टि से 13 जनवरी के दोपहर बाद से ही आने वाले श्रद्धालुओं को परिसर में रुकने की व्यवस्था निःशुल्क की गई है।
Gorakhnath-Temple-1मकर संक्रान्ति के अवसर पर खिचड़ी चढ़ाने वाले श्रद्धालुजन सुविधापूर्वक भगवान् गोरखनाथ जी का दर्शन कर सकें इसके लिये बेरीकेटिंग का कार्य पूरी तरह से पूर्ण हो चुका है। मन्दिर परिसर में जगह-जगह अलाव की व्यवस्था, पेयजल की व्यवस्था के साथ-साथ परिसर में पहले से मौजूद शुलभ-शौचालय हैं। इसके अलावा मन्दिर परिसर में विधुत की आपूर्ति अनवरत बना रहे, इसके लिये पर्याप्त मात्रा में जनरेटर रखे गये हैं।
मन्दिर और मेला परिक्षेत्र में प्रत्येक गतिविधि को नजर रखने के लिये जगह-जगह CCTV कैमरे लगाये गये हैं। 7 वाच टावर से सुरक्षा अधिकारी हर प्रकार के गतिविधि पर नजर रखेगें। मन्दिर की ओर से 1500 से अधिक स्वंय सेवक श्रद्धालुजनों की सुविधा एवं सुरक्षा की दृष्टि से लगाये जा रहे हैं।
Gorakhnath-Temple-2प्रशासन भी पूर्वी उत्तर प्रदेश के सबसे बड़े मेले को सकुशल सपन्न करवाने के लिये यद्यपि अपने स्तर से प्रयास कर रहा है। मन्दिर की ओर से आने वाले महत्वपूर्ण मार्गों में से सौनौली मार्ग पर बरगदवां चैराहे-नकहा रेलवे क्रांसिग से स्पोटर्स कालेज मार्ग, सोनौली मार्ग से उद्योग भवन-रामनगर चैराहा तक का मार्ग, एम पी पालीटेक्निक के बगल से होते हुये सुभाषचन्द्र बोस नगर (बिलन्दपुर खत्ता)-सूरजकुण्ड कालोनी मार्ग, सोनौली मुख्य मार्ग से इण्डस्ट्रीयल स्टेट होते हुए सिचाई विभाग तिराहा (ललितापुरम् कालोनी) से आगे भगवती चैराहा होते हुए सरस्वती शिशु मन्दिर रेलवे क्रासिंग मार्ग, गोरखनाथ मन्दिर के पूर्वी गेट (बद्री टिम्बर) से रामनगर चैराहा होते हुये रेलवे लाइन-मिर्जापुर पचपेड़वा क्रासिंग मार्ग, गोरखनाथ थाने के सामने मार्ग डिवाइडर पर प्रकाश की व्यवस्था सहित इत्यादि मार्गो पर अबतक प्रभावी कार्यवाहीं नही हो पाई है।
‘मकर संक्रान्ति’ के अवसर पर आने वाले वाहनोें के पार्किंग स्थलों की सफाई तथा लाइटिंग की व्यवस्था में भी सुधार आवश्यक है।
Gorakhpur-MP-Adityanath-in-योगी जी ने प्रशासन से आग्रह किया कि मकर संक्रान्ति (खिचड़ी मेला) महापर्व पूर्वी उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा मेला है। लाखों की संख्या में श्रद्धालुजन महायोगी गुरु गोरखनाथ जी को अपनी पवित्र खिचड़ी चढ़ाते हैं। प्रशासन इस मेले को गम्भीरता से ले और श्रद्धालुओं की सुरक्षा और सुविधा को विशेष महत्व देकर खिचड़ी मेला शान्तिपूर्ण एवं सकुशल सम्पन्न कराये।
मकर संक्रान्ति पर्व पर आने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा और उन्हे किसी प्रकार की असुविधा न हो इसके लिए जिलाधिकारी ने सभी विभागों से युद्धस्तर पर लगकर कार्य करने को कहा। श्रद्धालुजनों की सुरक्षा और सुविधा को सर्वोच्च प्राथमिकता दिये जाने हेतु उन्होंने इस सम्बन्ध में सभी विभागों को अपने-अपने स्तर से कार्य करने को कहा। इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने मन्दिर एवं मेला परिसर की पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के प्रति आश्वस्त किया। सभी विभागाध्यक्षों ने अपनी-अपनी जिम्मेदारियों को समय से पूरा करने का आश्वासन दिया।
Security-at-Gorakhnath-tempसमीक्षा बैठक मेें महापौर, नगर आयुक्त, ए डी एम सिटी, एस पी सिटी, नगर मजिस्ट्रेट, मुख्य चिकित्साधिकारी, पुलिस उपाधीक्षक प्रज्ञान, लोक निर्माण विभाग, पथ-प्रकाश, गोरखपुर विकास प्राधिकरण, विद्युत विभाग, जिलापूर्ति अधिकारी, नागरिक सुरक्षा, दूरदर्शन केन्द्र व आकाशवाणी केन्द्र गोरखपुर के प्रभारी निदेशक, ए आर एम परिवहन निगम, प्रभारी अधिकारी पूर्वोत्तर रेलवे, वन विभाग के डी एफ ओ, दूरसंचार विभाग के प्रभारी, सी ओ गोरखनाथ, थानाध्यक्ष गोरखनाथ, सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *