टॉप न्यूज़

106 साल के कैदी की रिहाई के लिये सीएम अखिलेश से लगाई गुहार

Chauthi-Yadavगोरखपुर: तीन दशक पूर्व उरूवा थानाक्षेत्र में हुए हत्या के मामले में जिला कारागार वाराणसी में सजा काट रहे 106 वर्षीय कैदी की रिहाई के लिए उसकी वृद्ध एवं अंधी पत्नी ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मानवीय आधार पर रिहाई की फ़रियाद लगाई है।
बता दें कि सालो पहले उरूआ थाना क्षेत्र के बगल में पचहुआ गॉव निवासी श्याम नारायण तिवारी की हत्या के केस में 302 का सजा काट रहे मलॉव गांव निवासी चौथी यादव कुछ साल पहले जिला कारागार से 20 साल सजा काट लेने के बाद रिहाई मिल गई थी। रिहाई मिल जाने पर श्यामनारायण तिवारी के पुत्र दोबारा हाईकोर्ट में दखल देकर चौथी यादव को पुनः सलाखों के पीछे भिजवा दिया।
दुबारा सजा काट रहे बुजुर्ग चौथी यादव के अच्छे चाल-चलन को लेकर चौथी यादव को 20 साल बाद पुनः सजा से मुक्ति मिल गई।
चौथी यादव को सजा से मुक्ति मिल जाने से श्याम नारायण तिवारी के लड़के को नागवार लगा और वो सुप्रीम कोर्ट मे अपनी फरीयाद देकर सजा से मुक्त चौथी यादव को आजीवन कारावास की सजा काटने पर मजबुर कर दिया।
वहीं चौथी यादव के दोनो पुत्रो रामायण यादव, जीउत बंधन यादव के रहते हुये भी चौथी यादव की पत्नी सुमरा देवी बेसहारा है। इस बुढ़ापे में कोई सहारा नही है। उनके आँखों की रौशनी भी न के बराबर हो गई है। उनकी पत्नी का रो कर बुरा हाल हो गया है उम्र के लगभग अंतिम पड़ाव में गोरखपुर में मानवीय आधार पर बुजुर्ग कैदी की रिहाई को लेकर परिजनों ने मुख्यमंत्री से गुहार लगाई है।
बता दे कि उम्र के अंतिम पड़ाव में वाराणसी केंद्रीय जेल में आजीवन सजा काट रहे चौथी यादव को 2005 में अच्छे चाल-चलन के लिए जेल प्रशासन ने स्वतंत्रता दिवस पर मुख्य अतिथि बनाया था !

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *