टॉप न्यूज़

रावण पुतला दहन के दौरान अमृतसर में बड़ी रेल दुर्घटना, 50 की मौत, पटरी पर बिखरीं लाशें

अमृतसर: पंजाब के अमृतसर में रावण दहन देख रहे लोग ट्रेन की चपेट में आ गए, जिसमें कम से कम 50 लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने कहा कि बड़ी संख्या में लोग रेल पटरी पर खड़े होकर रावण दहन देख रहे थे। इसी दौरान रेलगाड़ी आ गई और बड़ी तादाद में लोग इसकी चपेट में आ गए। बताया जाता है कि रावण दहन के दौरान पटाखे जलने की वजह से लोग ट्रेन की सीटी की आवाज नहीं सुन सके।

प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि मृतकों में बच्चे भी शामिल हैं। घटनास्थल पर करीब 700 लोग जमा थे। पुलिस ने कहा कि बड़ी संख्या में लोग रेल पटरी पर खड़े होकर रावण दहन देख रहे थे। इसी दौरान रेलगाड़ी आ गई और बड़ी तादाद में लोग इसकी चपेट में आ गए।बताया जाता है कि रावण दहन के दौरान पटाखे जलने की वजह से लोग ट्रेन की सीटी की आवाज नहीं सुन सके।

बताया जा रहा है कि यह हादसा चौड़ा बाजार के समीप हुआ है। उस समय लोग पटरी के पास रावण दहन देख रहे थे और ऐसे में तेजी आती हुई ट्रेन की आवाज सुनाई नहीं दी औऱ ट्रेन लोगों को रौंदते हुए निकल गई. ऐसा होता देख वहां पर भगदड़ मच गई. इसमें काफी लोगों के मारे जाने की आशंका है। घटना स्थल से हृदयविदारक तस्वीरें आ रही हैं, जिसे देखा नहीं जा सकता है। ट्रैक के आसपास खून से लथपथ लाशें बिखरी पड़ी हुई हैं। घटनास्थल पर मौजूद चश्मदीद बता रहे हैं कि ट्रेन की स्पीड बहुत ज्यादा थी, जबकि भीड़भाड़ वाले इलाके को देखते हुए इसकी रफ्तार कम होनी चाहिए। इस घटना को लेकर स्थानीय लोगों में काफी नाराजगी है।

वहीँ इस दर्दनाक दुर्घटना पर भारतीय रेलवे की एडीजी पीआर ने कहा कि यह दुर्घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। इस हादसे की चपेट में कितने लोग आए हैं, अभी इसकी ठीक ठीक जानकारी नहीं मिल पाई है. राहत-बचाव वाली ट्रेन मौके पर पहुंच चुकी है। रेल राज्य मंत्री भी घटनास्थल के लिए रवाना हो चुके हैं।

दूसरी तरफ नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर सिद्धू ने घटना के वक्त वहां मौजूद होने और वहां से भागने के आरोप पर सफाई दी है. उन्होंने कहा कि वह मौके से भागी नहीं।

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर घटना पर दुख जताया है। उन्होंने कहा कि अमृतसर में हुआ ट्रेन हादसा दुखी और हैरान करने वाला है। इस घटना में पीड़ित लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं. कामना करता हूं कि घायल लोग शीघ्र स्वस्थ हों। रेलवे फौरन राहत और बचाव कार्य में जुट गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट कर घटना पर दुख जताया है। प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, अमृतसर में हुई रेल दुर्घटना को लेकर बहुत दुखी हूं। यह घटना हृदयविदारक है। मृतकों के परिवारों के प्रति मेरी पूरी सहानुभूति है, और प्रार्थना कर रहा हूं कि जो लोग इसमें घायल हुए हैं , वे जल्द से जल्द स्वस्थ हो जाएं. मैंने अधिकारियों को सभी आवश्यक सहायता मुहैया कराने को कहा है।

(आईएएनएस)

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *