टॉप न्यूज़

सीएम योगी ने आज किया करोडों की योजनाओं का शिलान्यास, लोकार्पण

सीएम योगी ने  किया करोडों की योजनाओं का शिलान्यास

गोरखपुर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज दिन में जंगल कौड़िया पहुंचकर लोक निर्माण विभाग, नलकूप, जल निगम, बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग के कुल 18 परियोजनाओं का शिलान्यास/लोकार्पण किया।यहां से आने के पहले महेसरा पुल का भी लोकार्पण किया है।

सीएम आज पूर्व ब्लॉक प्रमुख स्व रामपति यादव की प्रतिमा का अनावरण कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने पुराने सामान्य कार्यकर्ता तप्पे यादव को भीड़ से मंच पर बुलाया और बगल में राज्यमंत्री डा. महेंद्र सिंह की कुर्सी पर बैठाया। उन्होंने पूर्व ब्लाक प्रमुख स्वर्गीय रामपति यादव की मूर्ति का अनावारण करते हुए कहा कि उन्हें गोरक्षपीठ से उन्हें कोई अलग नहीं कर सकता है। इस अवसर पर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि देता हूँ।

सीएम ने कहा कि कैम्पियरगंज में विकास की बहुत संभावनाएं है। यहां से आने के पहले महेसरा पुल का भी लोकार्पण किया है।अब गोरखपुर जाने में आप लोगों को दिक्कत नहीं होगी। आज मैने 150 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास/लोकार्पण हो रहा है। उन्होंने कई गांव वालों का नाम लेते हुए कहा कि सभी के गांव इस परीयोजनाओं से लाभान्वित हो जाएंगे।

उन्होंने कहा कि 1,62,000 पुलिस की भर्तियां लेकर आ रहे हैं। किसी ने इसमें धांधली की तो उसकी संपत्ति जब्त कराकर उसे जेल भेजने और उसकी संपत्ति गरीबों में बांटने का काम करेंगे। क्षेत्र में भी भर्तियां लेकर आ रहे हैं। योगी ने कहा कि बिजली पहले 4 जिलों में बिजली मिलती थी।अब जिले में 24, तहसील में 20 और गांव में 18 घंटे बिजली मिल रही है।

उन्होंने कहा कि जंगल कौड़िया ब्लॉक मुख्यालय पर ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ के नाम से डिग्री कालेज और स्टेडियम उपलब्ध कराएंगे।यहां बनने वाले आईटीआई को स्व. रामपति यादव के नाम पर उपलब्ध कराएंगे।अब सरकार महिलाओं, गांव और नौजवानों को ध्यान में रखकर योजनाएं बना रही है। उन्होंने कहा कि पीएम ने स्टैंडअप योजना शुरू की है। जिसके तहत 10 लाख तक का लोन सस्ते दर पर उपलब्ध कराने के लिए निर्देश दिया जा रहा है। पीएम की योजनाओं की तर्ज पर प्रदेश में भी योजनाओं को लागू किया जा रहा है।

सीएम ने कहा कि आजादी के बाद से अभी तक वनटांगिया गांव को मान्यता नहीं मिली थी। उन्हें दिवाली पर राजस्व ग्राम घोषित किया। अन्य लोग लखनऊ में बैठकर जनता का पैसा वे अपने घर कर निर्माण में खर्च करते थे।आज जनता का पैसा जनता की योजनाओं पर खर्च होना है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *