टॉप न्यूज़

देवरहा बाबा के आशीर्वाद का प्रतीक चिह्न है कांग्रेस का चुनाव चिन्ह हाथ का पंजा

वेद प्रकाश दुबे
देवरिया: कांग्रेस का चुनाव चिन्ह हाथ का पंजा महान संत देवरहा बाबा के आशीर्वाद का प्रतीक चिह्न माना जाता है। राजनीति के जानकर बताते हैं कि आपातकाल के बाद 1977 में हुये लोकसभा के चुनाव में कांग्रेस को करारी हार का सामना करना पड़ा था। उस चुनाव में स्वयं इंदिरा गांधी के साथ उनके सभी दिग्गजों को करारी हार का सामना करना पड़ा था और इंदिरा गांधी को जेल भी जाना पड़ा था। कांग्रेसी खेमें में मायूसी छायी हुई थी।

हार के बाद आत्ममंथन में जुटे कांग्रेसी खेमे ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को देवरिया जिले के मईल में सरयू किनारे प्रवास कर रहे सिद्ध संत देवरहा बाबा के दर्शन करने की सलाह दी। बताया जाता है कि इंदिरा गांधी सिद्ध संत देवरहा बाबा के दर्शन के लिये देवरिया से 40 किलोमीटर दूर 1978 में देवरहा बाबा का दर्शन करने के लिये उनके आश्रम पर पहुंची थी।

बताते हैं कि बाबा ने इंदिरा गांधी को दर्शन के बाद हाथ उठाते हुये आशीर्वाद दिया था कि यहीं हाथ तुम्हारा भला करेगा। बताया जाता है कि इंदिरा गांधी ने बाबा के इस आशीर्वाद को मन से लगाते हुये, वहां से वापस आने के बाद कांग्रेस के चुनाव निशान गाय-बछड़ा को हटाकर हाथ के पंजा को बना लिया। इसी चिह्न पर 1980 में इंदिरा चुनाव लड़ी और प्रचंड बहुमत प्राप्त कर देश की प्रधानमंत्री बनीं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *