टॉप न्यूज़

कचहरी, नौसढ़ बस स्टैंड की बदलेगी डिजाइन, सितम्बर से सेवाएं देने की संभावना

गोरखपुर कचहरी, नौसढ़ बस स्टैंड की बदलेगी डिजाइन

गोरखपुर: जिले के नव निर्माणाधीन कचहरी और नौसढ़ बस स्टैंडों की सूरत बदली नजर आएगी। जहां अधिक प्लेटफॉर्म और यात्रियों के लिए बेहतर सुविधाओ युक्त डॉरमेट्री भी होगी। आशा जताई जा रही है कि सितम्बर 2018 में दोनों बस अड्डे सेवा देने लगेंगे।

बता दें कि परिवहन आयुक्त पी गुरुप्रसाद ने जिले के कचहरी और नौसढ़ बस अड्डे को लेकर विभागीय और कार्यदायी संस्था राजकीय निर्माण निगम के अधिकारियों को इस संबंध में निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि जिले के कचहरी और नौसड़ बस स्टैंड पर अब पार्किंग की जगह बढ़ाई जाएगी, ताकि ज्यादा बसें खड़ी हो सकें। इसके लिए दोनों बस स्टैंड की डिजाइन बदली जाएगी।

 Gorakhpur kachari nausadh bus stands

Gorakhpur kachari nausadh bus stands

निरीक्षण के दौरान उन्होंने निर्देशित किया कि भूतल पर कमरों की संख्या कम करें और ऊपर की दोनों मंजिलों पर इसे शिफ्ट कर दें।परिवहन आयुक्त ने कचहरी बस स्टैंड का निरीक्षण करते हुए कहा कि भूतल पर प्रशासनिक दफ्तर की जरूरत नहीं है, इसे ऊपरी मंजिल पर रखें। भूतल पर कवर्ड एरिया कम करें, यात्रियों के लिए डॉरमेट्री नीचे ही बनाएं। बसें सड़कों पर खड़ी नहीं होनी चाहिए, ज्यादा से ज्यादा प्लेटफॉर्म बनाएं। उन्होंने कहा कि नई डिजाइन बनाकर जल्द भेजें, ताकि इसे अंतिम रूप दिया जा सके।

इसके बाद वह नौसड़ बस स्टैंड को देखने पहुंचे। उन्होंने कहा कि सितंबर 2018 तक दोनों बस स्टैंड को निर्माण पूरा हो जाए। उनके साथ परिवहन निगम के क्षेत्रीय प्रबंधक सुग्रीव राय भी मौजूद थे।

परिवहन आयुक्त ने आरटीओ के ट्रेनिंग सेंटर के लिए गीडा में जमीन भी देखी। तीन एकड़ की जमीन देखने के बाद उन्होंने गीडा की सीईओ हर्षिता माथुर से छह एकड़ जमीन और देने को कहा। इसके बाद उन्होंने कमिश्नर से मिलकर भी जमीन उपलब्ध कराने की मांग की। निरीक्षण के दौरान आरटीओ एम. अंसारी, डीडी मिश्र, एआरटीओ प्रवर्तन संदीप पंकज, संदीप जायसवाल आदि मौजूद थे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *