टॉप न्यूज़

एमएलसी चुनाव: निष्कासन पर सीपी चन्द के पक्ष में बिछने लगी बिसातें; पण्डित हरिशंकर तिवारी की भूमिका हुई अहम

CP-chand-and-Pandit-Harishaगोरखपुर: गोरखपुर-महाराजगंज विधान परिषद से सपा द्धारा घोषित किये गये उम्मीदवार सीपी चंद को कल समाजवादी पार्टी ने पार्टी से बर्खास्त कर दिया। इस घटना के बाद गोरखपुर की राजनीति गर्मा गई है और वहां के विपक्ष में सपा को हराने की उम्मीद जग गई है। लोगों की नजरें पण्डित हरिशंकर तिवारी के हाते पर लग गईं हैं। जानकार उनकी भूमिका को अहम मान रहे हैं।
दरअसल सीपी चंद की जगह अंतिम क्षण में जेपी यादव को उम्मीदवार बना देने के बाद उम्मीद थी कि सीपी चंद मैदान से हट जायेंगे, लेकिन उन्होंने सपा आला कमान के फरमान को दरकिनार कर चुनावी बिगुल बजा दिया। जिस पर कल वह सपा से निकाल दिये गये।
गोरखपुर-महाराजगंज सीट से सीपी के मैदान में डटे रहने के बाद अन्य दलों के समर्थकों में सपा को हराने की उम्मीद दिखने लगी है। भाजपा का एक बड़ा खेमा सीपी को मदद देने के लिए आगे आ चुका है। सूत्र बताते हैं कि अन्ततः भाजपा समर्थक मत सीपी चंद के खाते में जायेंगे।
इस चुनाव में गोरखपुर के दिग्गज पंडित हरिशंकर तिवारी के खेमे का भी बहुत महत्वपूर्ण रोल होगा। गोरखपुर और महाराजगंज जिले में उनका बहुत बड़ा समर्थक वर्ग है। अगर इस खेमे ने भी सीपी को समर्थन देने का मन बनाया तो समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार को मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है।
हालांकि बातचीत में सीपी चंद ने अपनी रणनीति का खुलासा तो नहीं किया है, लेकिन उन्होंने यह ज़रूर माना कि पण्डित हरिशंकर तिवारी खेमे की मदद उनके लिए काफी अहम है।
सूत्र बताते हैं कि तिवारी खेमे ने अभी तक इस बारे में फैसला नहीं लिया है, लेकिन इतना स्पष्ट है कि अगर उस खेमे ने चुनाव में भूमिका निभाई तो वह सीपी चंद की मदद में ही जायेगा। पण्डित हरिशंकर तिवारी के हाते पर इस मुद्दे पर मंथन जारी है। उम्मीद है कोई फैसला जल्द हो जाये।

एमएलसी चुनाव: सपा ने सीपी चंद को दिखाया पार्टी से बाहर का रास्ता; जेपी यादव ही रहेंगे पार्टी के प्रत्याशी

एमएलसी चुनाव: एक माह बाद भी न बता सके जन्मतिथि; चुनाव आयोग के फरमान से सांसत में पार्षद

सीपी चंद नहीं जेपी यादव हैं पार्टी के प्रत्याशी: गोरखपुर सपा अध्यक्ष

 
गोरखपुर की हर खबर यहाँ पढ़े http://gorakhpur.finalreport.in/ 

LIKE US:

fb
AD4-728X90.jpg-LAST

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *