टॉप न्यूज़

अब बुनकरों पर मेहरबान हुई सरकार, खाते में जाएगा बिजली बिल की सब्सिडी का पैसा

गोरखपुर अब बुनकरों पर मेहरबान हुई सरकार

गोरखपुर: प्रदेश में पावरलूम बुनकरों को अब सरकार की तरफ से फिक्स रेट पर बिजली नहीं मिलेगी बल्कि उन्हें सब्सिडी दी जाएगी।रसोई गैस की तरह सब्सिडी का पैसा सीधे बुनकरों के खाते में जाएंगी। अब तक सब्सिडी का पैसा राज्य सरकार बिजली विभाग को देती थी।इसी सप्ताह से बिजली महकमा सहयोग उद्योग हथकरघा विभाग की मदद से घर-घर जाकर पावरलूम बुनकरों का सर्वे करेगा।

विभागीय सर्वे में लोड, पावरलूम की स्थिति तथा बैंक खाते का डिटेल लिया जाएगा। गोरखपुर में 4500 तथा खलीलाबाद में 6500 पावर लूम है जिनमें दो शिफ्टों में काम होता है।

बता दें कि बुनकरों को राहत देने के लिए ही राज्य सरकार पावरलूम बुनकरों को फिक्स रेट पर( प्रति लूम150 रुपए माह) बिजली दे रही थी,लेकिन इसके दुरुपयोग की लगातार शिकायतें मिलने के बाद सरकार ने बुनकरों को मिलने वाली बिजली की जांच कराने का फैसला किया था।इसके बाद बिजली महकमा ने जगह जगह चेकिंग की और नए मीटर भी लगाए।इस योजना का लाभ छोटे बुनकरों से ज्यादा बड़े उद्यमियों को हुआ,जिनके पास दो -दो सौ पावरलूम हैं।

अब राज्य सरकार ने गरीब बुनकरों को लाभ पहुंचाने के लिए सब्सिडी का पैसा सीधे बुनकरों के खाते में भेजने का निर्णय किया है। इस सम्बंध में आयुक्त व निर्देशक हथकरघा एवं वस्त्र उद्योग रमा रमण में पत्र जारी कर पावर लूम बुनकरों का सर्वे कराने का निर्देश दिया है। सर्वे का कार्य बिजली विभाग व हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग विभाग के कर्मचारी संयुक्त रुप से करेंगे । एक पावर लूम पर कितनी सब्सिडी मिलेगी,इसका आकलन पावर लूम की क्षमता पर निर्भर करेगा।एक माह के भीतर सर्वे पूरा कराने का लक्ष्य रखा गया है।

वहीँ इस संबंध में सहायक आयुक्त हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग राम बड़ाई ने बताया कि सर्वे कराने वाली टीम का पावरलूम बुनकर सहयोग करें ताकि जल्द से जल्द सब्सिडी की धनराशि सीधे उनके खाते में जाए जो लोग सर्वे में छूट जाएंगे । उन्हें व्यवसायिक कनेक्शन मानकर बिजली विभाग पूरा भुगतान लेगा और उन्हें सब्सिडी भी नहीं मिलेगी।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *