टॉप न्यूज़

डीडीयू चुनाव: सपा जिलाध्यक्ष प्रह्लाद यादव ने भाजपा क्षेत्रीय अध्यक्ष धर्मेंन्द सिंह पर किया पलटवार

अरविन्द श्रीवास्तव
गोरखपुर: सपा जिलाध्यक्ष प्रहलाद यादव ने भाजपा क्षेत्रीय अध्यक्ष धर्मेंन्द सिंह पर पलटवार करते हुए कहा है कि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के ट्वीट पर बयान देने से पहले भाजपा क्षेत्रीय अध्यक्ष को यह जानकारी कर लेनी चाहिए थी कि 9 साल बाद 2016 में पूर्ववर्ती सपा सरकार में ही गोरखपुर विश्वविद्यालय छात्र संघ का चुनाव हुआ था।

बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने गोरखपुर विश्वविद्यालय छात्र संघ का चुनाव स्थगित किए जाने के बाद ट्वीट कर कहा था कि,”लगता है गोरखपुर लोकसभा उप-चुनाव में हारने के बाद अब कुछ लोगों को गोरखपुर विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव में भी हार का डर सता रहा है, इसीलिए वो चुनाव टाल रहे हैं. ये चुनाव से पहले ही हार मान लेने का सबूत है. छात्रों से उनका अधिकार छीनना अलोकतांत्रिक है।

अखिलेश के ट्वीट के बाद भाजपा क्षेत्रीय अध्यक्ष धर्मेंन्द सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्री पर कटाक्ष करते हुए कहा था कि सपा राज में आखिर क्यों नहीं विवि में चुनाव हुआ था। उनके इसी बयान पर पलटवार करते हुए सपा जिलाध्यक्ष प्रहलाद यादव ने कहा कि हकीकत यह है कि 2016 में विवि प्रशासन ने चुनाव कराया था। विवि के अध्यक्ष अमन यादव भारी मतों से विजयी हुए थे।

सपा नेता ने कहा कि सिंचाई मन्त्री कह रहे हैं कि गुंडई बर्दाश्त नहीं होगी। लेकिन मंन्त्री जी आखिर गुंडई करने वाले आपकी ही पार्टी/संगठन से जुड़े लोग थे तो मंन्त्री जी आरोप किस पर लगा रहे है। उन्होंने कहा कि स्वयं के हार के डर से गुंडई कराकर चुनाव निरस्त कराते है और आरोप दूसरों पर लगाते है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर कटाक्ष करते हुए प्रह्लाद यादव ने कहा कि भाजपा सरकार किसानों को उनकी फसल का दाम नहीं दे पा रही है तो खेत में गन्ना बोने से मना कर रहे हैं। अद्भुत कारणों को बताने बाले अद्भुत लोगों ने गोरखपुर विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनाव में अपने कैंडिडेट की हार तय देख कर चुनाव ही स्थगित करा दिया। युवाओं, पिछडों, दलितों की एकता भाजपा की चूले हिला चुकी है। भाजपाई समझ गये थे कि नतीजें उपचुनाव जैसे ही होंगे। लेकिन सवाल यह चुनाव से कब तक भागेंगे। जनता हिसाब देने को तैयार है।

गौरतलब है कि 13 सितम्बर को निर्धारित गोरखपुर विश्वविद्यालय का चुनाव मंगलवार को छात्रों के दो गुटों में झड़प के बाद स्थगित कर दिया गया।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *