टॉप न्यूज़

कुलपति को बनाया बंधक, जमकर की नारेबाजी, CO कैण्ट के मान मनौवल पर शान्त हुए छात्र नेता

अरविन्द श्रीवास्तव
गोरखपुर: दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के छात्र नेताओं ने कुलपति को क्रीड़ा परिषद में एक घंटे तक बन्धक बनाकर छात्रसंघ चुनाव कराने की मांग को लेकर धरना प्रर्दशन व नारेबाजी की। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे चीफ प्राक्टर और चौकी इंचार्ज ने समझाने का काफी प्रयास किया लेकिन छात्रनेता नहीं माने। वार्ता करने की बात को लेकर अड़ गये। सीओ कैंट प्रभात राय व इस्पेंक्टर के काफी प्रयास के बाद वार्ता कराने की बात पर छात्र शान्त हुए।

विश्वविद्यालय के छात्र नेताओं ने छात्रसंघ चुनाव कराने की मांग को लेकर क्रीड़ा परिषद का शटर बन्द करके नारेबाजी सुरू कर दी। लगभग एक घंटे तक कुलपति को अन्दर बन्द कर दिया गया। किसी ने इसकी सुचना चिफ प्राक्टर व चौकी इंचार्ज को दे दी। मौके पर पहुचने के बाद छात्रनेताओं को समझाने का प्रयास किया मगर छात्रनेता नहीं माने और कुलपति से वार्ता कराने की बात को लेकर अड़ गये। कैंट सीओ व चीफ प्राक्टर के काफी प्रयास के बाद छात्रनेता शान्त हुए और कीड़ा परिषद का सटर को खोल दिया गया।

छात्र नेता बाहर खड़े होकर कुलपति से मिलने का इंतेजार करने लगे। कुलपति पुलिस प्रशासन के साथ बाहर आये और बिना वार्ता किये गाड़ी में बैठकर निकल गये। छात्रनेताओं को यह बात अच्छी नहीं लगी। छात्रनेताओं ने कुलपति की गाड़ी के सामने जमकर मुर्दाबाद के नारे लगाये। छात्रनेताओं ने कहा कि हमारे कुलपति हिटलर की तरह तानाशाही करने पर उतारू हो गये है। वह छात्रो के हित की बात नहीं कर रहे है।

उन्होने कहा कि अगर विवि में छात्रसंघ चुनाव नहीं होगा तो विवि में शिक्षक संघ व कर्मचारी संघ चुनाव नहीं होने दिया जायेगा। चुनाव आने पर इसका विरोध किया जायेगा। विवि में कोई भी सरकारी कार्यक्रम होता है तो हम छात्रनेता इसका विरोध करेगें। अगर विवि में छात्रसंघ चुनाव नहीं हुआ तो कोई भी चुनाव या कार्यक्रम नहीं होगा। विरोध प्रदर्शन में छात्रनेता पवन कुमार, अमर कुमार, शिवशंकर गौड़, राजीव यादव, सूरज यादव, प्रणव द्विवेदी, आलोक सिंह, मनीष ओझा, आर्या यादव, अमित सिघानियां, सत्य विजय यादव, गौरव वर्मा, निखिल यादव, अभिषेक निषाद, राजन यादव, प्रमोद यादव अन्य लोग उपस्थित रहे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *