गोरखपुर टॉप न्यूज़

तीन गोवंशियों के मरने से मचा हड़कम्प, कांजी हाउस में रखे पशुओं का बुरा हाल

अरविन्द श्रीवास्तव
गोरखपुर: नगर निगम के अफसरों द्वारा कांजी हाउस में बंद पशुओं के साथ जो क्रूरतापूर्ण व्यवहार हो रहा है, उसका पर्दाफाश कांजी हाउस में बंद तीन गोवंशियों के मरने के बाद हुआ।

बताया जाता है कि नगर निगम ने जिन छुट्टा पशुओं को पकड़ कर काजी हाउस फर्टिलाइजर में रखा है उनके आहार की व्यवस्था नही है लिहाजा पशुओं को भूखे रहना पड़ रहा है। इसी वजह से आज लगभग तीन पशुओं ने अपनी जान गंवा दी वही बाकी पशुओं पर भी जान के लाले पड़े हैं।

आज की घटना से द्रवित समाजसेवी महिपाल वर्मा ने कहा कि नगर निगम पशुओं के साथ जो क्रूरता व्यवहार कर रहा है ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि नगर निगम में कार्यरत कर्मचारी पशुओं को लाकर कांजी हाउस में रखने के बाद वहां बैठकर आराम से शराब पीते हैं। बताया जाता है कि दो गायें व एक बछड़े की जान आज चली गयी।

एक गाय के मरने की सहायक नगर आयुक्त ने की पुष्टि, एक बछड़ा और दो गाय की हालत चिंताजनक बताया सहायक नगर आयुक्त ने

सहायक नगर आयुक्त संजय कुमार शुक्ला ने बताया कि दो पशु घायल अवस्था में आए थे जिसमे एक गाय और एक बछड़ा था गाय की मौत हुई है बछड़े का इलाज चल रहा है जबकि दो और गायों की हालत चिंताजनक है, जिनका इलाज मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि पशुओं को अपने पास रखने वाले लोगो को भी नगर निगम इन पशुओं को देगी बशर्ते उन्हें रखने के लिए नागरिक के पास अपनी खुद की जमीन होनी चाहिए। सड़क पर रखने के लिए उन्होंने नही दिया जाएगा। अगर कोई समाजसेवी पशुओं के लिए आहार देना चाहता है तो नगर निगम उसका स्वागत करेगा।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *