टॉप न्यूज़

जनजागरूकता फैला कर करें इंसेफेलाइटिस से बचाव: कमिश्नर

Image-for-representation-2गोरखपुर: मंडल में इंसेफलाइटिस/एइएस एक भयावह बीमारी है जिससे कितने मासूमों की मुत्यु हुई है और कितने विकलांगता के शिकार बन गये। सरकार अपने स्तर से इस बीमारी से मासूम बच्चों को बचाने के लिए प्रयास कर रही है। इस बीमारी से बचाव एंव रोकथाम के लिए सबसे जरूरी है कि समाज के सभी लोग इस बीमारी के बारे में जानें तथा यह भी जानें कि यह बीमारी कैसे होती है, हमारे आस पास कौन से ऐसे कारक है जो इस बीमारी को पैदा करती है और इससे कैसे बचा जाये।
उक्त बातें मण्डलायुक्त पी गुरू प्रसाद ने गोरखपुर मण्डल के सभी ग्रामोे एवं वार्डो मे लोगो को इंसेफलाइटिस से बचाव के लिए जागरूक करने हेतु 11 जुलाई से 17 जुलाई तक इंसेफलाइटिस जागरूकता सप्ताह मनाने के आयुक्त सभागार में मंडल स्तरीय अधिकारियों के प्रशिक्षण कार्यशाला/बैठक में कही।
उन्होेंने बताया कि मंडल में 11 जुलाई को प्रातः 8 बजे से 10 बजे के मध्य प्रत्येक बेसिक शिक्षा विद्यालय एंव माध्यमिक विद्यालयों से संबंधित गावों/वार्डों में जागरूकता रैली निकालकर लोगों को जागरूक किया जायेगा साथ ही जागरूकता सप्ताह में समस्त गावों में चैपाल आयोजित कर इंसेफलाइटिस से बचाव एंव रोकथाम के लिए जागरूक किया जायेगा।
मंडलायुक्त ने कहा कि यह कार्यक्रम महत्वपूर्ण है इसमें सभी अधिकारियों की अधिक सक्रिय भूमिका होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हमे ऐसी बस्तियों और गावों में विशेष ध्यान देना होगा जहां इस बीमारी का खतरा अधिक है। कार्यक्रम में आशा, आंगनवाड़ी, ग्रास रूट के कर्मचारियों की अहम भूमिका से इस बीमारी से निजात पाने में लोगों को मदद मिलेगी।
इस अवसर पर उन्होने ने कहा कि यदि इस बीमारी के संबंध में कोई भी लक्षण दिखाई दे तो तत्काल नजदीकी ई0टी0सी0 सेंटर या स्वास्थ्य केन्द्र पर ले जायें साथ ही ग्रामीणों को इस बीमारी के बारे में जागरूक करने हेतु विकास खण्डवार आशा, एएनएम को मध्य प्रशिक्षित किया जायेगा जिससे वे अपने क्षेत्र में लोगों को जागरूक करेंगी। उन्होंने कहा कि ब्लाक स्तरीय इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्राथमिक विद्यालयों के प्रधानाचार्य, एएनएम, आशा, सीडीपाओ, एडीओ पचांयत, खण्ड शिक्षा अधिकारी की उपस्थिति अनिवार्य है। इस अभियान को एक मिशन मोड में लेकर कार्य करने की आवश्यकता है जिससे इस बीमारी से मासूम बच्चों को बचाया जा सके साथ ही हर स्कूलों में बच्चों को प्रार्थना के दौरान इस बीमारी से बचाव हेतु जानकारी/शपथ दिलाई जायेगी।
इस अवसर पर डा बीके श्रीवास्तव ने सभागार में जनपदीय स्तर के अधिकारियों को जेइ/एइएस के कारणों और उससे बचाव के संबंध में जानकारी दी। इस अवसर पर चारों जनपद के जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी सीएमओ , बीएसए,समाजकल्याण अधिकारी डीपीआरओ , अधिशासी अभियन्ता जल निगम सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

हमारा फेसबुक पेज LIKE करना न भूले:
fb
AD4-728X90.jpg-LAST

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *