Uncategorized

गार्ड की हत्या के दोषी व्यवसायी को उम्रकैद

Life-sentence-for-Kerala-beत्रिशूर (केरल): एक स्थानीय अदालत ने गुस्से में सुरक्षा गार्ड के ऊपर गाड़ी चलाकर उसकी जान लेने के लिए दोषी ठहराए गए व्यवसायी को गुरुवार को आजीवन कारावास की सजा सुनाई।
अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश के.पी. सुधीर ने बुधवार को मोहम्मद निशम को दोषी करार दिया था। अदालत ने गुरुवार को उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई। साथ ही 70 लाख रुपये जुर्माने भी लगाया।
अभियोजन पक्ष ने निशम पर आरोप लगाया था कि उसने 29 दिसंबर 2014 को गुस्से में आकर अपनी हमर गाड़ी गार्ड 47 वर्षीय चंद्र बोस पर चढ़ा दी थी। इससे पहले उसने गार्ड से मारपीट भी की थी।
बोस यहां एक पॉश आवासीय परिसर में सुरक्षा गार्ड के रूप में काम करता था। इस हादसे में बुरी तरह घायल होने के बाद वह अस्पताल में 48 दिनों तक मौत से जूझता रहा और पिछले साल 15 फरवरी को उसकी मौत हो गई।
अभियोजन पक्ष के वकील उदयभानु ने गुरुवार को बताया कि आरोपी के खिलाफ कई धाराएं लगाई गई हैं। उन्होंने बताया कि 70 लाख रुपये जुर्माने से 50 लाख रुपये गार्ड की पत्नी को दिए जाएंगे।
उन्होंने आगे कहा कि अदालत ने पुलिस को निर्देश दिया है कि गलत बयान देने को लेकर गार्ड की पत्नी के खिलाफ मामला दायर किया जाए।
इस दौरान मुख्यमंत्री ओमेन चांडी ने गुरुवार को कहा कि गार्ड की पत्नी को सरकारी नौकरी दी जाएगी और उसकी थ्रिसूर में ही टाईपिस्ट के पद पर नियुक्ति की जाएगी।
किंग समूह की कंपनियों के मालिक निशम विवादों में तब आए थे, जब उन्होंने अपने सात साल के बेटे की कार चलाते हुए फोटो सोशल मीडिया पर डाल दी थी। उनके खिलाफ कथित रूप से उसकी गाड़ी की चेकिग के दौरान एक महिला पुलिस अधिकारी के साथ दुर्व्यवहार का भी आरोप है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *