Uncategorized

बिहार क्रिकेट संघ ने लोढ़ा समिति से लगाई गुहार

Bihar-Cricket-Board-raises-कोलकाता: देश की सर्वोच्च क्रिकेट संस्था भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) से मान्यता हासिल करने के लिए लड़ रहे बिहार क्रिकेट संघ (सीएबी) ने मंगलवार को न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) आर एम लोढ़ा की समिति के समक्ष अपनी मान्यता का मुद्दा उठाया।
उल्लेखनीय है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के छठे संस्करण में हुए स्पॉट फिक्सिंग और सट्टेबाजी की जांच करने वाली लोढ़ा समिति बीसीसीआई की कार्यप्रणाली में सुधार संबंधी अपनी रिपोर्ट जल्द ही पेश करने वाली है।
सीएबी के सचिव आदित्य वर्मा ने बताया, “लोढ़ा समिति अगले साल चार जनवरी को पेश करने वाली अपनी रिपोर्ट में बीसीसीआई के संविधान और उसकी कार्यप्रणाली में कई बदलाव का सुझाव दे सकती है। इसलिए मैंने समिति को लिखकर सीएबी को मान्यता प्रदान करने का मामला उठाया है।”
आदित्य वर्मा ने कहा, “पिछले 14 वर्षो से बिहार के युवा प्रतिभाशाली क्रिकेट खिलाड़ियों को बीसीसीआई आगे बढ़ने का मौका नहीं दे रही, जो मानवाधिकारों का गंभीर उल्लंघन है। अपने नियमों में बिना किसी बदलाव के बीसीसीआई ने सीएबी की सदस्यता समाप्त कर गलत किया है।”
उन्होंने कहा, “इसलिए हम आपसे बीसीसीआई के इस सौतेले व्यवहार से हमारी रक्षा के लिए उचित कार्यवाही करने का अनुरोध करते हैं।”

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *