Uncategorized

यौन शोषण के आरोपी डिप्टी जेलर को जेल

jailerमहराजगंज: जिला कारागार महराजगंज के डिप्टी जेलर रहे डीएन गुप्ता पुलिस ने गिरफतार कर जेल भेज दिया है।इन पर उज्बेकिस्तानी महिला का यौन शोषण और रकम ऐंठने का आरोप है।

डिप्टी जेलर को मुजहना जिला देवरिया से पुलिस  उन्हेे 19 जनवरी को गिरफतार कर महराजगंज लायी। यहां एसपी भारत सिंह यादव द्वारा गिरफतारी की जानकारी दी गयी। साथ ही उन्होंने पुलिस टीम की सराहना भी की।

दरसल मामला यह है कि बीते 19 जनवरी 2015 को इण्डो नेपाल बार्डर के सोनौली कस्बे से उज्बेकिस्तानी महिला दिलफरोज को गिरफतार किया गया था। वह बगैर पासपोर्ट के भारत में प्रवेश कर रही थी। पुलिस ने उसे गिरफतार कर जेल भेज दिया। इसके बाद 3 जुलाई 2015 को कोतवाली सदर में डिप्टी जेलर के खिलाफ उज्बेकिस्तानी महिलो का यौन शोषण करने और रकम ऐंठने के आरोप में मुकदमा दर्ज हुआ।

महिला ने डिप्टी जेलर डीएन गुप्ता पर आरोप मढते हुए कार्यवाही की मांग की। इस बीच विवेचना होती रही और पीडित महिला न्याय के लिए अधिवक्ता के माध्यम से डटी रही। जब महिला ने 3 जुलाई 2015 को डिप्टी जेलर पर आरोप मढा तो हाय तौबा मच गयी थी।

डिप्टी जेलर डीएम गुप्ता को निलम्बित कर जिला कारागार ललितपुर अटैच कर दिया और महिला को सिद्वार्थनगर जिला कारागार भेज दिया गया। बीते 18 दिसम्बर को उज्बेकिस्तानी महिला दिलफरोज रिहा होकर अपने वतन चली गयी।

 एसपी भारत सिंह यादव ने मामले की गम्भीरता को देखते हुए 3 अक्टूबर 2015 को इस मामले की जांच सीओ निचलौल रचना मिश्रा को सौपी। इस अभियोग की विवेचना के दौरान पिडिता का धारा 164 के तहत न्यायालय में बयान कराया गया। जिसमें उसने घटना व प्रथम सूचना रिर्पोट का पूर्ण समर्थन किया।

डिप्टी जेलर डीएन गुप्ता नरहर पडरी थाना तरकुलवा जिला देवरिया के रहने वाले है। उन्हे 19 जनवरी को सीओ निचलौल रचना मिश्रा के नेतृत्व में गठित टीम के द्वारा मुजहना जिला देवरिया से पकडा गया।

jailer1

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *