Uncategorized

15 हजार सहायक अध्यापक भर्ती मामले में नियुक्ति निरस्त करने पर लगी रोक

Allahabad-HCइलाहाबाद: हाईकोर्ट ने 15 हजार सहायक अध्यापकों की प्राथमिक विद्यालयों में नियुक्ति निरस्त करने संबंधी आदेश पर रोक लगा दी है।
कोर्ट ने बेसिक शिक्षा विभाग व प्रदेश सरकार से जवाब मांगा है। अंकित सिंह व चार अन्य की याचिका पर सुनवाई करते हुए यह आदेश न्यायमूर्ति पी के एस बघेल ने दिया है।
याचीगण का कहना है कि 15 हजार सहायक अध्यापक भर्ती के लिए एक दिसम्बर 2004 को जारी विज्ञापन के तहत वे चयनित हुए थे। इसी भर्ती प्रक्रिया के लिए हाईकोर्ट ने बी ईएल एड डिग्री धारकों को भी अर्ह मानते हुए उनकी नियुक्ति पर विचार करने का आदेश दिया। साथ ही कहा कि नियुक्तियां याचिका पर निर्णय के अधीन रहेगी।
इसी क्रम में चयनित कुछ अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र जारी कर दिये गये और उनमें से तमाम लोगों ने ज्वाइन कर लिया। इस दौरान दस नवम्बर 2015 के आदेश पर याचीगण की नियुक्ति स्थगित कर दी गयी तथा 14 दिसम्बर 2015 को उनकी नियुक्तियां रद्द कर दी गयीं।
कहा गयाकि बी ईएल एड डिग्री धारकों को भी समायोजित कर नए सिरे से परिणाम जारी किया जायेगा। याची के अधिवक्ता ने कहा कि बी ईएल एड डिग्रीधारकों की संख्या मुश्किल से सौ है ऐसे में नियुक्ति रदद करना उचित नहीं है। कोर्ट ने 10 नवम्बर और 14 दिसम्बर के आदेशों पर रोक लगाते हुए सरकार से जवाब मांगा है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *