Uncategorized

1971 के भारत-पाक युद्ध के नायक जैकब नहीं रहे; मोदी ने कहा देश हमेश रहेगा जैकब का ऋणी

JFR-Jacobनई दिल्ली: 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में भारत की जीत और बांग्लादेश के सृजन में एक अहम भूमिका निभाने वाले लेफ्टिनेंट जे एफ आर जैकब (सेवानिवृत्त) का यहां बुधवार को निधन हो गया। जैकब (93) ने आर्मी हॉस्पिटल (रिसर्च एंड रेफरल) में सुबह करीब 8.30 बजे अंतिम सांस ली।
अस्पताल के एक अधिकारी ने कहा कि उन्हें निमोनिया हुआ था। उन्हें एक जनवरी को भर्ती कराया गया था।
जैकब 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान भारतीय सेना की पूर्वी कमान के प्रमुख के रूप में अपनी सेवाएं दी थीं। वह गोवा व पंजाब के राज्यपाल भी रहे।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट जनरल जे एफ आर जैकब को यह कहते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की कि देश हमेशा उनका ऋणी रहेगा। उन्होंने 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में भारत की जीत और बांग्लादेश की आजादी एक अहम भूमिका निभाई थी।
जैकब का यहां बुधवार सुबह एक अस्पताल में निधन हो गया। मोदी ने उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए ट्विटर पर लिखा, “भारत सर्वाधिक संकटकालीन पलों में उनकी निष्कलंक सेवा के लिए हमेशा उनका आभारी रहेगा।”
उन्होंने लिखा, “लेफ्टिनेंट जनरल जैकब और मैंने अक्सर बातचीत की। उनके साथ एक यादगार बातचीत हुई थी, जब उन्होंने मुझे अपनी आत्मकथा भेंट की थी।”

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *