Uncategorized

पृथ्वी मिसाइल-2 का सफल परीक्षण

Prithvi-II-test-successfulभुवनेश्वर: भारत ने स्वदेश विकसित परमाणु क्षमता संपन्न सतह से सतह पर मार करने वाली पृथ्वी-2 मिसाइल का ओडिशा के एक परीक्षण केंद्र से मंगलवार को सफल परीक्षण किया।
रक्षा सूत्रों ने कहा कि यह मिसाइल 500 से 1000 किलोग्राम तक आयुध ले जाने में सक्षम है। इसका परीक्षण सेना ने बालासोर जिले के चांदीपुर एकीकृत परीक्षण केंद्र से एक मोबाइल लॉन्चर की मदद से किया गया।
सेना के स्ट्रैटेजिक फोर्सेज कमांड (एसएफसी) ने नियमित परीक्षण अभ्यास के तहत यह परीक्षण किया।
350 किलोमीटर की दूरी तक मार करने वाली पृथ्वी-2 मिसाइल दो तरल प्रणोदन इंजनों से संचालित होती है। यह अपने लक्ष्य को भेदने की दिशा में तेजी से बढ़ते हुए आधुनिक दिशा निर्देशन प्रणाली का इस्तेमाल करती है।
सूत्रों ने कहा कि इस मिसाइल की उड़ान अवधि 483 सेकेंड है और यह अधिकतम 43.5 किलोमीटर की ऊंचाई तक उड़ान भर सकती है।
सूत्रों ने कहा कि परीक्षण के लिए मिसाइलों के जखीरे में एक एक मिसाइल का चयन कर उसका परीक्षण किया गया। परीक्षण की पूरी तैयारी एसएफसी ने की तथा इसकी निगरानी रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) द्वारा किया गया।
पृथ्वी मिसाइल को सशस्त्र सेना में साल 2003 में शामिल किया गया था।
इस मिसाइल का अंतिम सफल परीक्षण बीते साल 26 नवंबर को ओडिशा के इसी परीक्षण केंद्र से किया गया था।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *