मायावती राज में हुए चीनी मिल घोटाले की होगी जांच, 23 अप्रैल तक गन्ना किसानों का होगा भुगतान

लखनऊ: प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने एक बड़ा फैसला करते हुए मायावती के राज में 21 सरकारी चीनी मिलों को बेचने में हुए घोटाले की जांच के आदेश दिए हैं। इसक अतिरिक्त योगी ने चीनी मिलों को इस साल के गन्ने का भुगतान 23 अप्रैल तक करने का आदेश दिया है।

योगी सरकार ने मौजूदा साल का गन्ना बेचने वाले किसानों को 23 अप्रैल तक हर हाल में भुगतान करने का आदेश चीनी मिलों को दिया है। ऐसा न करने वाले मिल मालिकों पर केस होगा।

साथ ही योगी ने मायावती राज में 21 चीनी मिलों को बेचने में हुए 11 हजार करोड रुपये के हुए घोटाले की जांच के आदेश दिए हैं। सरकार ने कहा है कि अगर ज़रूरी हुआ तो इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश भी की जा सकती है।

सरकार ने फैसला किया है कि गन्ना किसानों की शिकायतों के निपटारे के लिए जल्द ही एक टोल फ्री नंबर जारी होगा. आधी रात तक चली बैठक में सभी चीनी मिलों को योगी ने हर साल एक एक गांव गोद लेने के आदेश दिए हैं. यूपी में 116 चीनी मिलें हैं।

योगी सरकार ने आगजनी से तबाह हुए गेहूं किसानों को भी मुआवजा देने का फैसला किया है। योगी सरकार ने जिलाधिकारियों को निर्देश दिया है कि वो जले हुए गेहूं खेत का मौके पर जाकर मुआयना करें और नुकसान की रिपोर्ट राज्य सरकार को दें। उसके बाद राज्य सरकार एक सप्ताह के अंदर मुआवजे की राशि किसानों को देगी।

Martia Jewels
Martia Jewels
Martia Jewels