उत्तर प्रदेश

मुन्ना बजरंगी हत्याकांड: जेलर निलंबित, न्यायिक जांच के आदेश; सुनील राठी गैंग पर शक

लखनऊ: प्रदेश की बागपत जिला जेल में अंडरवर्ल्ड डॉन प्रेम प्रकाश सिंह उर्फ मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने न्यायिक जांच का आदेश दिया है। साथ ही बागपत जेल के जेलर को निलंबित कर दिया गया है। वारदात के बाद जेल प्रशासन से लेकर लखनऊ तक अधिकारियों में हड़कंप मच गया है। डीएम और एसपी जेल पहुंच चुके हैं। मुन्ना बजरंगी की हत्या के पीछे वेस्ट यूपी और उत्तराखंड में सक्रिय सुनील राठी गैंग का हाथ बताया जा रहा है। सुनील राठी यूपी के साथ उत्तराखंड में सक्रिय है। सुनील की मां राजबाला छपरौली से बसपा से चुनाव लड़ चुकी है।

योगी ने कहा है कि जेल परिसर के अंदर होने वाली ऐसी घटना एक गंभीर बात है। जिम्मेदार लोगों के खिलाफ गहन जांच और सख्त कार्रवाई की जाएगी।

मुन्ना बजरंगी की आज बसपा के पू्र्व विधायक लोकेश दीक्षित से रंगदारी मांगने के मामले में आज कोर्ट में पेशी थी, रविवार सुबह झांसी जेल से लाकर उसे रात 9 बजे बागपत जेल में शिफ्ट किया था। बताया जा रहा है कि आज सुबह सुनील राठी और मुन्ना बजरंगी में झगड़ा हुआ जिसके बाद मुन्ना बजरंगी को गोली मार दी गई। इस दौरान कई राउंड फायरिंग हुई।

पुलिस आलाधिकारी जेल में मौजूद हैं और मामले की जांच कर रहे हैं। बताया गया कि कुछ दिन पहले ही मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने अपने पति की जान को खतरा बताया था। मुन्ना की पत्नी ने दो दिन पहले लखनऊ में अपने पति की हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया था।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *