उत्तर प्रदेश

मुख्तार अंसारी को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी, भेजा गया बांदा जेल

बीएसपी विधायक मुख्तार अंसारी अस्पताल से छुट्टी

लखनऊ: मऊ के सदर से बीएसपी विधायक मुख्तार अंसारी को लखनऊ स्थित संजय गांधी पोस्ट ग्रैजुएट इंस्टिट्यूट (एसजीपीजीआई) से डिस्चार्ज कर दिया गया है। उन्हें वापस बांदा जेल भेजा जा रहा है। उनका आगे का इलाज बांदा जेल में ही होगा।

इस बीच एसजीपीजीआई से उनकी छुट्टी होने की सूचना के बाद मुख्तार अंसारी के परिजनों ने सरकार पर लारवाही का आरोप लगाया है। मुख्तार अंसारी को दो दिन पहले बांदा जेल में दिल का दौरा पड़ा था, जिसके बाद उन्हें लखनऊ के एसजीपीजीआई लाया गया था। मंगलवार को मुख्तार अंसारी की एंजियोग्रफी और ईसीजी की रिपोर्ट सामान्य आई। इसके बाद एसजीपीजीआई के डॉक्टरों ने कहा कि मुख्तार को दिल की बीमारी नहीं है। उनका हार्ट स्वस्थ्य है।

घरवालों के विरोध के बाद पीजीआई के डॉक्टरों ने उन्हें एक दिन और अंडर ऑब्जर्वेशन रखा गया। इस दौरान मुख्तार पूरी तरह से स्वस्थ्य रहे। डॉक्टरों ने गुरुवार को उनकी छुट्टी करने की बात कही। गृह विभाग को भी इस मामले में सूचना भेज दी गई। गृह विभाग ने मुख्तार का आगे इलाज बांदा जेल में ही कराने का फैसला किया है।

इधर मुख्तार के परिवार का कहना है कि मुख्तार कोई सामान्य कैदी नहीं हैं। वह एक जनप्रतिनिधि हैं। सरकार उनके इलाज में लापरवाही कर रही है। परिवार का आरोप है कि कुछ मंत्रियों के दबाव में मुख्तार को वापस बांदा भेजा जा रहा है।

मुख्तार को बांदा भेजने की पूरी तैयारी कर ली गई है। एसजीपीजीआई और मोहनलालगंज पुलिस पीएसी के साथ लखनऊ बॉर्डर तक छोड़ेगी। उसके बाद बांदा जेल सुरक्षा उन्हें बांदा लेकर जाएगी। बीच में पड़ने वाले जिलों की पुलिस भी उनके साथ होगी। मुख्तार के साथ उनके बेटे अब्बास अंसारी भी जा रहे हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *