उत्तर प्रदेश

रेल बजट: अखिलेश यादव ने सुरेश प्रभु को लिखा पत्र

akhilesh-yadavलखनऊ: रेल मंत्री सुरेश प्रभु 25 फरवरी को संसद में वित्त वर्ष 2016-17 का रेल बजट प्रस्तुत करेंगे। इस बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रभु को पत्र लिखकर राज्य की विशेष आवश्यकताओं को देखते हुए कुछ प्रस्तावों को रेल बजट में शामिल करने का अनुरोध किया है। मुख्यमंत्री ने प्रभु को लिखे पत्र में इटावा-मैनपुरी के बीच बड़ी लाईन का कार्य इसी वित्त वर्ष में पूर्ण कराने और इसके लिए बजट में आवश्यक धनराशि का प्रावधान करने का अनुरोध किया है।
अखिलेश ने कन्नौज से कानपुर सेक्शन के अन्तर्गत मंधना से अनवरगंज के बीच की रेल लाईन को हटाते हुए एक नए मन्धना-पनकी बाईपास रेलमार्ग का निर्माण कराने का भी अनुरोध किया है।
मुख्यमंत्री ने रेल मंत्री से प्रदेश के बड़े शहरों को यातायात समस्या से निजात दिलाने के लिए रेलवे क्रॉसिंग के ऊपर ज्यादा से ज्यादा फ्लाईओवर निर्माण, लखनऊ में ऐशबाग रेलवे स्टेशन को चारबाग रेलवे स्टेशन के सैटेलाइट स्टेशन के रूप में विकसित करने तथा इलाहाबाद और कानपुर के बीच तीसरी रेल लाइन बिछाने हेतु भी अनुरोध किया है।
अखिलेश ने प्रभु को यह भी अवगत कराया है कि उत्तर प्रदेश सरकार अपने स्वंय के वित्तीय संसाधनों से भूमि अधिग्रहित कर लखनऊ-आगरा के बीच ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे का निर्माण करा रही है।
उन्होंने कहा है कि यदि केंद्र सरकार इस एक्सप्रेस-वे के समानान्तर एक नई रेलवे लाइन अथवा बुलेट ट्रेन की परियोजना लाती है तो प्रदेश सरकार इसके लिए पूर्व में अधिग्रहित भूमि में से नि:शुल्क भूमि रेल मंत्रालय को उपलब्ध कराने के लिए तैयार है।
मुख्यमंत्री ने आशा व्यक्त की है कि राज्य के हित को देखते हुए इन प्रस्तावों को रेल मंत्रालय द्वारा अपने आगामी रेल बजट वर्ष 2016-17 में सम्मिलित किया जाएगा।

गोरखपुर की हर खबर यहाँ पढ़े http://gorakhpur.finalreport.in/ 

LIKE US:

fb
AD4-728X90.jpg-LAST

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *